साहू समाज युवा प्रकोष्ठ ने किया 55 यूनिट रक्तदान

साहू समाज युवा प्रकोष्ठ ने किया 55 यूनिट रक्तदान

गुंडरदेही से संवाददाता स्वपना माधवानी की रिपोर्ट

बालोद। साहू समाज युवा प्रकोष्ठ के तत्वाधान में शनिवार को मां भानेश्वरी महोत्सव के उपलक्ष्य में साहू सदन जिला बालोद में रक्तदान शिविर एवं स्वास्थ्य प्रशिक्षण एवं प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। डॉक्टर अजय साहू,डॉक्टर प्रदीप साहू,आयुषी साहू, तोमन साहू,दिनेश्वर साहू,हेमप्रकाश साहू, भगवान दास साहू, मोरध्वज साहू ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि टहल साहू अध्यक्ष प्रदेश साहू संघ  छत्तीसगढ़ थे। अध्यक्षता सोमन लाल साहू अध्यक्ष जिला साहू संघ बालोद ने की। वशिष्ठ  अतिथि के रूप में विधायक ओंकार साहू धमतरी,पूर्व विधायक बीरेंद्र  साहू चतुर्भुज साहू, रमेश सोनवानी प्रदेश पदाधिकारी,अंतरराष्ट्रीय रंगोली कलाकार प्रदीप साहू, तहसील अध्यक्ष मदन सोनबरसा, सोमेश साहू, युवराज साहू, उमाशंकर साहू ,मानसिंह सर्व, नरेंद्र हिरवानी, अंजनी साहू ,द्रोपती साहू ,देवा साहू, तोरण साहू, उपस्थित थे। शिविर में 200 से अधिक युवाओं का स्वास्थ्य प्रशिक्षण किया गया  एवं 55 युवाओं ने रक्तदान किया।

मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष टहल साहू ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा अगर युवा अपनी संस्कार युवा अपनी फर्ज ना भूले तो समाज में स्वास्थ्य शिक्षा और रोजगार में सुधार आ जाएगा और समाज की दशा दिशा बदल जाएगी। आज युवा पीढ़ी शिक्षित हो रहे हैं और रक्तदान शिविर सफल आयोजन के लिए मैं युवा साथियों को बधाई देता हूं कहते हुए अपने वाणी को विराम दिया।

वरिष्ठ अतिथि विधायक धमतरी ओंकार साहू ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रक्तदाताओं एवं प्रतिभावान बच्चों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा देश के हर युवा को समाज के हर युवा को रक्तदान करना चाहिए। आपकी रक्तदान से किसी की जिंदगी बच सकता है। रक्तदान महादान की नारा लगाते हुए अपनी वाणी को विराम दिया।

कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए युवा प्रकोष्ठ के संयोजक दिनेश्वर साहू सहसंयोजक हेम प्रकाश साहू   तोमन साहू मोरध्वज साहू खूब लाल साहू दानी साहू धर्मेंद्र साहू आजेंद्र साहू डोमन साहू पंकज साहू संजय साहू मेघनाथ साहू नवीन साहू ,,
एवं मंच संचालन सारथी बने अपनी मीठी वाणी से लोगों को आकर्षित किया भगवान दास साहू और आदि  युवा टीम उपस्थित थे।