रत्नावली कौशल ने कहा-भाजपा सरकार की स्वास्थ्य सेवा काफी मजबूत, हेल्थ मिनिस्टर जायसवाल को दी शुभकामनाएं

रत्नावली कौशल ने कहा-भाजपा सरकार की स्वास्थ्य सेवा काफी मजबूत, हेल्थ मिनिस्टर जायसवाल को दी शुभकामनाएं

मुंगेली से परमेश्वर कुर्रे की रिपोर्ट

मुंगेली। भाजपा नेत्री एवं अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण छत्तीसगढ़ शासन पूर्व सदस्य रत्नावली कौशल ने प्रेदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल से भेंटकर प्रदेश में स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए जा रहे उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें शुभकामनाएं दी। उन्होंने मंत्री जायसवाल से राज्य के जनजातीय इलाकों के गांवों में स्वास्थ्य सेवा के विस्तार के हेतु निवेदन किया। रत्नावली ने कहा कि मुख्यमंत्री विष्णु देव के साय के मार्गदर्शन एवं आपके नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सेवा काफी मजबूत हुई है।
भाजपा नेत्री रत्नवली कौशल ने स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल से भेंटकर पुष्प गुच्छ देकर उनका अभिनंदन किया। रत्नावली कौशल ने मंत्री जायसवाल से कहा कि मुख्यमंत्री  विष्णु देव साय एवं आपके नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ बनाने और विस्तारित करने के लिए मात्र छह माह की अवधि में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं। राज्य के सरकारी अस्पतालों में आधुनिक संसाधनों और उपकरणों की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। अस्पतालों में सुविधाओं का विस्तार हुआ है, बड़े पैमाने पर विशेषज्ञ डॉक्टरों और टेक्निकल एवं चिकित्सकीय स्टॉफ की नियुक्ति की गई है। इससे आम जनता को बड़ी राहत मिली है। मात्र 10-20 रुपए की पर्ची कटाकर लोग सरकारी अस्पतालों में उत्कृष्ट चिकित्सा सेवाओं का लाभ ले पा रहे रहे हैं। रत्नावली कौशल ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों से लेकर जिला चिकित्सालयों और मेडिकल कलेजों को सुदृढ़ बनाकर मंत्री जायसवाल ने छत्तीसगढ़ की अवाम निजी अस्पतालों के भारी भरकम खर्चे से मुक्ति दिलाने का अतुलनीय कार्य किया है। गरीब और मध्यम आय वर्गीय  लोगों को अब हृदय रोग, कैंसर, लकवा जैसे क्रिटिकल मामलों के इलाज की सुविधा सरकारी अस्पतालों में सहज सुलभ हो गई है।
कौशल ने मंत्री जायसवाल से कहा कि राज्य की महिलाओं और बच्चों से संबंधित रोगों के इलाज की सुविधा भी विस्तारित हुई है। इससे हर वर्ग की मातृशक्ति लाभान्वित हो रही है। रत्नावली कौशल ने अनुसूचित जाति जनजाति बाहुल्य क्षेत्रों के सुदूर गांवों में निवासरत बैगा,पहाड़ी कोरवा व अन्य अति पिछड़ी जनजातियों तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने का आग्रह मंत्री श्री जायसवाल से किया। उन्होंने मंत्री को बताया कि पहुंच विहीन बीहड़ इलाकों में रहने वाले जनजातीय लोग आज भी झाड़ फूंक और जंगली जड़ी बूटियों से इलाज करते हैं। सर्प दंश और बिच्छू के डंक का इलाज भी झाड़ फूंक से कराने पर विश्वास करते हैं,उनके बच्चे कुपोषण के और महिलाएं रक्त अल्पता के शिकार हैं। रत्नावली कौशल ने ऐसे जनजातीय इलाकों में जन जागरण अभियान चलाए जाने और गांव गांव तक स्वास्थ्य सेवाओं को विस्तारित करने का आग्रह मंत्री जायसवाल से किया। सुश्री कौशल ने प्रदेश के सरकारी अस्पतालों की कमियों और डॉक्टरों के मुख्यालय में न रहने की ओर भी स्वास्थ्य मंत्री जायसवाल का ध्यान आकृष्ट कराया।