रत्नावली कौशल किसान कल्याण फाउंडेशन की राष्ट्रीय संरक्षक नियुक्त,किसान हित में उठाएंगी दमदारी के साथ आवाज

रत्नावली कौशल किसान कल्याण फाउंडेशन की राष्ट्रीय संरक्षक नियुक्त,किसान हित में उठाएंगी दमदारी के साथ आवाज

मुंगेली से परमेश्वर कुर्रे की रिपोर्ट

मुंगेली। भाजपा नेत्री एवं वरिष्ठ समाज सेविका रत्नावली कौशल को किसान कल्याण फाउंडेशन का राष्ट्रीय संरक्षक मनोनीत किया गया है। उन्हें यह दायित्व फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम प्रसाद यादव ने सौंपा है।
भाजपा नेत्री एवं अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण छग शासन पूर्व सदस्य रत्नावली कौशल अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग के लोगों के हितों की रक्षा के लिए शुरू से संघर्षरत रही। रत्नावली कौशल ने हर क्षेत्र में बुलंदियों को छुआ है। वे मुंगेली जिले के साथ ही छत्तीसगढ़ के अनुसूचित जाति जनजाति बहुल जिलों में भी सतनामी, कहार, महार, मोची, मेहर व अन्य अनुसूचित जातियों के लोगों तथा हल्बा, गोंड़, बैगा, कमार, पहाड़ी कोरवा, मुरिया, माड़िया, बिंझवार, भतरा, भतरी व दीगर जनजातियों के कल्याण के लिए सतत अभियान चलाती रही हैं। इन तमाम जातियों के लोगों को आरक्षण व शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाने की दिशा में रत्नावली कौशल ने उल्लेखनीय योगदान दिया है। अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण छग शासन में सदस्य रहते सुश्री कौशल ने मुंगेली जिले के अनुसूचित जाति जनजाति छात्रावासों का सतत निरीक्षण कर छात्रावासी और गैर छात्रावासी विद्यार्थियों को अधिकाधिक सुविधाएं दिलाई थी। जिले में सतनामी समाज और अन्य समाजों के बीच रत्नावली कौशल की लोकप्रियता चरम पर रही है। वे आज भी इन वर्गों के सार्वजनिक एवं सामाजिक कार्यक्रमों में पूरे सम्मान के साथ आमंत्रित की जाती हैं। समाज के बड़े बुजुर्ग जहां उन्हें पुत्री तुल्य प्यार और स्नेह देते हैं, वहीं युवक युवतियां उन्हें बहन के रूप में भरपूर सम्मान देते हैं। मुंगेली जिले में आयोजित कई कार्यक्रमों के दौरान देखने में आता रहा है कि रत्नवली कौशल के पहुंचते ही माताओं का मातृत्व रत्नावली कौशल पर बरसने लग जाता था, उनके साथ तस्वीर खिंचवाने और सेल्फी लेने के लिए युवतियों व बालिकाओं में होड़ सी लग जाती थी। रत्नावली कौशल की इसी लोकप्रियता, सर्वमान्य व्यक्तित्व को देखते हुए किसान कल्याण फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम प्रसाद यादव ने उन्हें फाउंडेशन का राष्ट्रीय संरक्षक मनोनीत किया है।

किसान हित में भी सक्रिय

भाजपा नेत्री रत्नावली कौशल सिर्फ जाति धर्म के ही दायरे में नहीं बंधी रही हैं, बल्कि समाज के सर्वहारा वर्ग के हित में भी निरंतर मुखर रही हैं। किसान हित में भी वे सक्रिय रूप से कार्य करती रही हैं। सरकारी स्तर पर की जाने वाली धान खरीदी के दौरान रत्नावली कौशल मुंगेली जिले के धान खरीदी केंद्रों का लगातार दौरा कर किसानों को अंधेरगर्दी से बचाने का काम करती रही हैं। धान खरीदी केंद्रों में जाकर रत्नावली कौशल धान का सही तौल कराने, सूखत के नाम पर किसानों से ज्यादा धान लेने पर रोक लगाने, धान की क्वालिटी के नाम पर किसानों को शोषण से बचाने में अहम भूमिका रत्नावली कौशल निभाती आई हैं। अन्नदाता के प्रति उनकी इसी निष्ठा के मद्देनजर किसान कल्याण फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम प्रसाद यादव ने रत्नावली कौशल को अपने संगठन के संरक्षक के रूप में महति जिम्मेदारी सौंपी है। रत्नावली कौशल को महत्वपूर्ण नई और जिम्मेदारी मिलने से किसानों में खुशी की लहर देखी जा रही है।