परागा बाई साहू को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई

परागा बाई साहू को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई

धमतरी से संवाददाता दिग्विजयसिंह सिंह की रिपोर्ट

भखारा | ग्राम सियनमरा (अरमरीकला) निवासी परागा बाई साहू,उम्र - 78 वर्ष का आकस्मिक निधन  22 जनवरी सोमवार को हुआ | ज्ञात हो कि परागा बाई साहू पूर्व सेवानिवृत्त शिक्षक स्व - विशाल सिंह हिरवानी की पत्नी थी| स्व परागा बाई साहू रामचरितमानस के माध्यम से राम नाम का व्याख्यान कर पूरे अंचल में अलख जगा रही थी| सत्य कबीर के आदर्शों पर अपनी जीवन लीला समाप्त किये | वे बहुत सहज सरल स्वभाव के धनी थे| उनके पीछे भरापूरा परिवार था| उनके सुपुत्र गोपाल सिंह हिरवानी,पीलेश्वर हिरवानी,सुपुत्री रामदुलारी साहू,रामप्यारी साहू,बसंती साहू,प्रतिभा साहू की माता थी व चैंनल इंडिया धमतरी के ब्यूरो चीफ दिग्विजयसिंह व पत्रकार युगल किशोर साहू की नानी थी | अंतिम संस्कार ग्राम की शांति घाट में विधि विधान पूर्वक किया गया| अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में ग्रामीण एवं समाज जन उपस्थित थे| संपूर्ण कार्यक्रम  24 जनवरी दिन बुधवार को रखा गया है |