ग्लोबल वार्मिंग की चुनौतियों से निपटने भारत सरकार कटिबद्ध : क़ानून मंत्री मेघवाल

ग्लोबल वार्मिंग की चुनौतियों से निपटने भारत सरकार कटिबद्ध : क़ानून मंत्री मेघवाल

कुमेश कुमार जैन लोढ़ा ने कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को अपनी नई हिन्दी पुस्तक ‘प्रदूषण पर विराम- पृथ्वी को आराम- प्रदूषण खत्म करें’ भेंट की

नई दिल्ली। डाक टिकिट संग्रहकर्ता फिलेटलेसिट भारतीय भाषा और साहित्य संगम के अध्यक्ष कुमेश कुमार जैन लोढ़ा ने केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को नई दिल्ली में अपनी नई हिन्दी पुस्तक ‘प्रदूषण पर विराम- पृथ्वी को आराम- प्रदूषण खत्म करें’ भेंट की। इस पुस्तक का आमुख संदेश भी अर्जुन राम मेघवाल ने लिखा है।

पुस्तक के भाग-एक की विषय वस्तु और कलेवर की प्रशंसा करते हुए केंद्रीय क़ानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग के वर्तमान युग में यह पुस्तक न केवल प्रासंगिक है वरन् वायु प्रदूषण एवं जल प्रदूषण के प्रति जन जागरुकता पैदा करने की दृष्टि से भी काफ़ी उपयोगी है। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ग्लोबल वार्मिंग की चुनौतियों से निपटने के लिए भारत सरकार कटिबद्ध होकर काम कर रही है।

इस मौके पर फिलेटलेसिट कुमेश कुमार जैन लोढ़ा ने बताया कि इस पुस्तक में विभिन्न देशों द्वारा ग्लोबल वार्मिंग एवं पर्यावरण के प्रति  करीब 5 सौ टिकटों को भी प्रकाशित किया गया है। पुस्तक के दो भाग और प्रकाशित होने वाले हैं। जिनमें सॉइल, साउण्ड,लाईट,इलेक्ट्रों मैगनेट,प्लास्टिक,थर्मल,रेडियो एक्टिव और विजुअल पोल्लूशन आदि विषयों को शामिल किया जाएगा। 
उन्होंने बताया कि इस पुस्तक का दस भागों प्रकाशित अंग्रेजी संस्करण और हिन्दी संस्करण का यह भाग अमेजन पर भी उपलब्ध है।

इस मौके पर भारतीय भाषा और साहित्य संगम के संयोजक हेमजीत मालू और परामर्शदाता गोपेन्द्र नाथ भट्ट भी उपस्थित थे।