शिक्षा मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने समर्पण दिवस पर पं दीनदयाल उपाध्याय को दी श्रद्धांजलि

शिक्षा मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने समर्पण दिवस पर पं दीनदयाल उपाध्याय को दी श्रद्धांजलि

अंत्योदय का मकसद समाज के सबसे गरीब और वंचित वर्गों को सशक्त बनाना है : बृजमोहन अग्रवाल

रायपुर। भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि "समर्पण दिवस" के अवसर पर राजधानी रायपुर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
वरिष्ठ मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, भाजपा कार्यालय एकात्मक परिसर और मोती बाग स्थित लोकसभा चुनाव कार्यालय में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुए और पंडित दीनदयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि अर्पित की।
बृजमोहन अग्रवाल ने इस अवसर पर कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय एक महान विचारक, राजनीतिज्ञ और समाज सुधारक थे। उन्होंने भारतीय जनसंघ की स्थापना की और 'अंत्योदय' के दर्शन का प्रचार किया। वे एक राष्ट्रवादी थे और भारत की समृद्ध संस्कृति और विरासत को संरक्षित करने के लिए समर्पित रहे। उनके जीवन और कार्यों को हमेशा याद रखा जाएगा। जो हमें एक बेहतर समाज बनाने के लिए प्रेरित करती हैं।
मंत्री अग्रवाल ने कहा कि अंत्योदय का मकसद समाज के सबसे गरीब और वंचित वर्गों को सशक्त बनाना है। उन्होंने यह भी कहा कि, आज के समय में, जब दुनिया विभाजित हो रही है, ऐसे में दीनदयाल उपाध्याय जी की 'एकात्म मानववाद' की शिक्षा हमें एकता और भाईचारे का संदेश देती है।