फांसी के फंदे पर मिली दो बच्चों सहित मां की लाश, जांच में जुटी पुलिस

फांसी के फंदे पर मिली दो बच्चों सहित मां की लाश, जांच में जुटी पुलिस

गुरुर से संवाददाता दीपक देवदास की रिपोर्ट 

गुरुर। शुक्रवार की शाम गुरुर थाना क्षेत्र के ग्राम कोचेरा में एक घर में दो बच्चों और उनकी मां की लाश फांसी के फंदे पर लटकी मिली । गुरुर पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन कर रही है। घटना के बाद पहुंचे प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक ऐसा लग रहा है कि महिला पहले दोनों बच्चों को गले में फंदा बांधी,फिर खुद भी साड़ी का फंदा बनाकर झूली है। पंखे के लिए लगाए जाने वाले हुक में फांसी लगाई है। मृतिका का नाम 26 वर्षीया हेमलता साहू पति तुमेश्वर साहू बताया जा रहा।  उसके साथ 2 साल की बच्ची और 4 साल का बच्चा भी फंदे पर मिला है। इस बड़ी घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस की पूरी टीम  हरकत में आ गई है। घटनास्थल पर जांच के लिए अधिकारी पहुंच गए हैं। ग्रामीणों के  मुताबिक महिला बच्चों सहित घर में अकेली थी। उनके पति तुमेश्वर गुरुर के अस्पताल में ठेकेदारी के तहत मिस्त्री कार्य करने के लिए गए थे। सास को तबीयत खराब होने पर उनके ससुर लिखन साहू द्वारा गुरुर अस्पताल में ही भर्ती कराया गया था।

जानकारी के अनुसार सास को उल्टी दस्त हो रहा था। अपनी पत्नी को भर्ती कराकर जब ससुर लिखन साहू दोपहर तीन बजे घर आया तो आगे और पीछे दोनों साइड का दरवाजा अंदर से बंद था। तो उन्होंने अपने भाई के घर के दीवाल फांद कर अपने घर प्रवेश किया तो देखा तो बहू और बच्चे फंदे पर लटके हुए थे। ससुर का कहना है कि सुबह  बच्चों को अपने साथ अस्पताल भी ले जाने वाले थे। लेकिन उनकी बहू ने मना कर दिया कि आज बच्चे नहीं जाएंगे। महिला ने आखिर बच्चों सहित इस तरह से इतना आत्मघाती कदम क्यों उठाया जांच का विषय है? पुलिस सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है। परिजनों से भी पूछताछ जारी है। मृतिका ग्राम आमदी धमतरी से शादी होकर कोचेरा आई हुई थी। 2 साल की लड़की आंगनबाड़ी जाती थी। वही 4 साल का लड़का गुरुर के प्राइवेट स्कूल में अध्यनरत था। घटनास्थल पर जांच के लिए एडिशनल एसपी सुशील नायक, एसडीओपी बोनिफास एक्का , गुरूर थाना प्रभारी भानु प्रताप साव, नायब तहसीलदार आशीष कुमार दिहारे, महिला प्रधान आरक्षक नर्मदा कोठारी,एसआई  कुलेश्वर यादव, आरक्षक दिनेश नेताम, योगेंद्र सिन्हा, प्रवीण राजपूत पीतांबर निषाद आदि जुटे हुए हैं।