आदिवासी बालक आश्रम निरीक्षण के दौरान घटिया निर्माण को देख कलेक्टर ने जताई नराजगी

आदिवासी बालक आश्रम निरीक्षण के दौरान घटिया निर्माण को देख कलेक्टर ने जताई नराजगी

गरियाबंद से संवाददाता विजय साहू की रिपोर्ट 

गरियाबंद । भाठीगढ स्थित आदिवासी बालक आश्रम बडेगोबरा का कलेक्टर दीपक अग्रवाल एंव विधायक जनक धुव्र ने संयुक्त रूप से अचानक निरीक्षण किया इस दौरान यहा अध्यनरत छात्रों से कलेक्टर दीपक अग्रवाल ने मुलाकात की। छात्रों से कलेक्टर ने कई सवाल पुछे कई छात्रों ने सवालों का जवाब बहुत बेहतर ढंग से दिया, जिससे कलेक्टर ने छात्र छात्राओं को शाबासी दिया और पुरे मन लगाकर पढाई करने को कहा है। साथ ही छात्रों के लिए ज्ञानवर्धक पुस्तक उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। 
आश्रम निरीक्षण के दौरान भोजन बनाने वाले कक्ष का निरीक्षण किया और तत्काल साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने का निर्देश ने दिया है, इस दौरान आश्रम में अधुरे निर्माण कार्य के सबंध में ग्रामीणों ने कलेक्टर को बताया कि यह आश्रम भवन का निर्माण लगभग 15 वर्ष पहले किया गया है,लेकिन भवन का आधे हिस्सा का निर्माण पिछले दो वर्ष पूर्व किया गया है। भवन निर्माण बेहद घटिया तरीके से किया गया है, जगह जगह से भवन में दरारे आ गई है साथ ही प्लोरिंग अभी से टुट फुट गया है दरवाजे खिडकी टुट फुट गया है।
कलेक्टर ने भवन का निरीक्षण कर जमकर नराजगी जताया और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को तत्काल मरम्मत कराने का निर्देश दिया है। अधीक्षक ने बताया कि आश्रम में पानी की भारी किल्लत है छात्रों के पीने के पानी के लिए दुर से लाना पडता है जिसके जल्द समाधान करने की बात कही गई है।
इस मौके पर प्रमुख रूप से एसडीएम मैनपुर डॉ तुलसीदास मरकाम, हेमसिंह नेगी, रामकृष्ण धुव्र, गेंदु यादव, अंजली खलखो, भुनेश्वर सिन्हा, दामोदर नेगी सहित क्षेत्र के ग्रामीण उपस्थित थे ।