राजिम मंडल में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि को भाजपा ने बलिदान दिवस के रूप में मनाया

राजिम मंडल में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि को भाजपा ने बलिदान दिवस के रूप में मनाया

गरियाबंद से संवाददाता विजय साहू की रिपोर्ट

गरियाबंद। भारतीय जनसंघ के संस्थापक एवं देश के प्रथम उद्योग व आपूर्ति मंत्री डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि को भाजपा ने बलिदान दिवस के रूप में मनाया। भाजपा मंडल राजिम अंतर्गत ग्राम किरवई के साहू समाज भवन बूथ क्रमांक 176, 177 एवं 178 के भाजपा कार्यकर्ताओं एवं भाजपा मंडल राजिम के पदाधिकारियों के साथ विधायक रोहित साहू, जिला पंचायत सदस्य चंद्रशेखर साहू, मंडल अध्यक्ष भाजपा कमल सिन्हा आदि की उपस्थिति में बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया।
कार्यक्रम की शुरुआत भाजपा नेताओं के द्वारा डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी के तैलचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करके की गई। इस दौरान सभी वक्ताओं ने डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी के जीवनचरित्र पर प्रकाश डाला।

महिलाओं ने भाजपा की नीति रीति से प्रभावित होकर भाजपा में प्रवेश किया

कार्यक्रम में गांव की अनेक महिलाओं ने भाजपा की नीति रीति से प्रभावित होकर भारतीय जनता पार्टी में प्रवेश किया जिसे विधायक व अन्य भाजपा नेताओं ने भाजपा का गमछा पहनाकर पार्टी में स्वागत किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक रोहित साहू ने कहा कि हमारी डबल इंजन सरकार श्यामा प्रसाद मुखर्जी के दिखाए मार्ग पर चलते हुए प्रदेश को विकास की ओर अग्रसर करने में कृत संकल्पित है।

श्यामा प्रसाद मुखर्जी महान देशभक्त थे,उन्होंने कश्मीर को लेकर अपने जीवन का बलिदान दिया इसलिए उनकी पुण्यतिथि भाजपा बलिदान दिवस के रूप में मनाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कर रही है। उन्होंने उनके बताए गए मार्ग पर चलने का सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया।

जिला पंचायत सदस्य चंद्रशेखर साहू ने कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा देश की एकता और अखंडता के लिए लगातार काम किया गया। उन्होंने कहा कि उनका जीवन हम सभी कार्यकर्ताओं के लिए अनुकरणीय है। डॉ. मुखर्जी ने सबसे पहले धारा 370 के खिलाफ आवाज उठाई थी उन्होंने नेहरू की तुष्टिकरण की नीति का विरोध किया था। साथ ही कश्मीर में दो निशान, दो विधान, दो प्रधान को लेकर आंदोलन किया था जिसके परिणाम स्वरूप कश्मीर से परमिट राज खत्म हुआ।

मंडल अध्यक्ष कमल सिन्हा ने बताया कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का एक मिशन था कि भारत में एक निशान, एक विधान और एक प्रधान हो इसे वर्तमान में मोदी सरकार द्वारा साकार किया गया।मोदी सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35 ए हटाकर पूरे देश में एक मिसाल कायम की है।

इस दौरान कार्यक्रम में शक्ति केंद्र संयोजक मोती साहू, रमेसर ध्रुव,सरपंच यथार्थ शर्मा,नरेश साहू,यशवंत सेन,धनेश्वरी साहू,श्यामलाल साहू, भूषण तारक,विजय ठाकुर,निकम साहू,दीपक साहू, रामानंद ध्रुव,विष्णु साहू, नंदकुमार विश्वकर्मा,भागवत साहू, जयलाल साहू,विष्णु साहू,रेखा साहू,गिविंद साहू,बृजराज साहू,सेवक साहू, परमेश साहू,सहित अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही।