10 जुलाई को प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ का ध्यानाकर्षण ज्ञापन

10 जुलाई को प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ का ध्यानाकर्षण ज्ञापन

घरघोडा से संवाददाता गौरीशंकर गुप्ता की रिपोर्ट

सफलता के लिए बैठक का दौर जारी

घरघोड़ा। छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ प्रांतीय निकाय के निर्णय अनुसार 10 जुलाई को पूरे प्रदेश में कर्मचारियों की ज्वलंत समस्याओं के निराकरण के लिए ध्यान आकर्षण ज्ञापन सौंपा जाएगा।
जिला शाखा अध्यक्ष संतोष कुमार पांडे कार्यकारी जिला शाखा अध्यक्ष संजीव शेट्टी सचिव एलबीएस जटवार ने संयुक्त विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि 10 सूत्रीय मांग निम्न अनुसार
1 केंद्र के समान प्रदेश के कर्मचारी एवं पेंशनरों को 50% महंगाई भत्ता देय तिथि से दिया जाए।
2 अभिभाजित मध्य प्रदेश की भर्ती छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों को 240 दिन के स्थान पर 300 दिन का अवकाश नगदी करन का आदेश जारी किया जाए।
3 लिपिक, शिक्षक, स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य कर्मचारी के वेतन विसंगति दूर करने हेतु पिंगुआ कमेटी की अनुशंसा लागू किया जाए।
4 लिपिक के अनुकंपा नियुक्ति में दिए गए शर्तों के पालन हेतु दक्षता परीक्षा 6 माह में आयोजित किए जाने संबंधी आदेश जारी किए जाएं।
5 अनियमित दैनिक वेतन भोगी कार्यभारित कर्मचारियों के नियमितीकरण की कार्रवाई शीघ्र की जाए।
6 प्रदेश के सभी संवर्ग के कर्मचारियों का लंबित पदोन्नति प्रक्रिया पूर्ण किया जाए।
7 सेवा काल में चार पदोन्नति वेतनमान का आदेश तत्काल जारी किया जाए।
8 परामर्श दात्री समिति की बैठक निर्धारित समय अवधि में किया जाए।
9 अविभाजित मध्य प्रदेश की भांति सांडों की मान्यता प्रदान किया जाए।
स्थानीय समस्याओं को तत्काल हल किया जाए।


10 जुलाई के आंदोलन को सफल करने हेतु आज घरघोड़ा में विकासखंड स्तरीय बैठक आयोजित की गई जिसमें जिला शाखा अध्यक्ष संतोष पांडे प्रांतीय सचिव आशीष शर्मा विकासखंड अध्यक्ष अश्वनी दर्शन जिला शाखा पदाधिकारी विनोद मेहर सर्वेश मरावी एवं सूरज पैंकरा अशोक चौहान गणेश्वर प्रसाद श्याम हरिराम यादव रूप सिंह पकड़ा धर्मेंद्र सिंह एवं पदाधिकारी उपस्थित थे।