आंगनबाड़ी के 7 बच्चे फूड पॉइजनिंग का शिकार,एक ही परिवार के सभी

आंगनबाड़ी के 7 बच्चे फूड पॉइजनिंग का शिकार,एक ही परिवार के सभी

कोंडागांव से संवाददाता मुकेश राठौर की रिपोर्ट

कोंडागांव। कोंडागांव जिला के बनजुगानी गांव से 11 जून को एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है। यहां एक ही परिवार के सात मासूम बच्चे फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए हैं। इसके बाद उन्हें गंभीर हालत में कोण्डागांव के जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है, जहां सभी का उपचार जारी है। बताया जा रहा है कि, सभी बच्चे आज सुबह घर के नजदीक आंगनबाड़ी केंद्र में गए थे। जहां खेलते-खेलते रतनजोत का बीज खा लिया।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घटना पर थे कहा

इस घटना के बाद सवाल उठने लगा है कि आंगनबाड़ी के कार्यकर्ता घटना के दौरान क्या कर रहे थे।  साथ ही छोटे बच्चों की हरकतों पर क्यों किसी का ध्यान नहीं गया।

इन बच्चों ने खाया रतनजोत

विकासखंड कोण्डागांव के बनजुगानी गांव में छोटे बच्चों के एक समूह ने रतनजोत का बीज खा लिया। रतनजोत का बीज खाने वाले समूह में नित्या पोयाम (4) पिता गुड़राम, दिवांसी पोयाम (4) पिता जड़ीराम, कांति पोयाम (6) पिता धनसिंह, आयुष पोयाम (3) पिता राजू, शिवानी पोयाम (5) पिता राजू, नियासा पोयाम (4) पिता गणेशराम और दीपेश पोयाम (4) पिता बाइस राम शामिल हैं। ये सभी बच्चे एक ही परिवार के हैं, आंगनबाड़ी आए हुए थे, जहां उन्होंने एक साथ रतनजोत का बीज खा लिया। घटना के तुरंत बाद परिजनों ने बच्चों को कोण्डागांव के जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है।

डॉक्टरों ने इलाज जारी किया, सभी खतरे से बाहर

सिविल सर्जन डॉ आरसी ठाकुर, पीडियाट्रिक डॉ रुद्र कश्यप, मेडिकल ऑफिसर डॉ अनामिका नेताम पीड़ितों का उपचार कर रहे हैं। डॉक्टर के अनुसार फिलहाल बच्चों की स्थिति खतरे से बाहर है, लेकिन बच्चे उपचार की प्रक्रिया से चिड़चिड़े हो रहे हैं। फिलहाल सभी को डॉक्टरी देखरेख में जिला अस्पताल में ही रखा गया है।