कोरोना काल में 2.10 लाख नए किसानों को मिले किसान क्रेडिट कार्ड, आप भी ऐसे ले सकते हैं इसका लाभ…. – Channelindia News
Connect with us

channel india

कोरोना काल में 2.10 लाख नए किसानों को मिले किसान क्रेडिट कार्ड, आप भी ऐसे ले सकते हैं इसका लाभ….

Published

on

सभी किसानों को खेती के लिए सस्ता लोन दिलाने के लिए कृषि मंत्रालय एक अभियान चला रहा है. इसके तहत पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम और किसान क्रेडिट कार्ड योजना को लिंक कर दिया गया है. फरवरी 2020 से चलाए गए इस अभियान के तहत अब तक 210.27 लाख नए किसानों के आवेदन मंजूर करके उनके लिए 2,04,292 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं. इसके तहत आप भी आवेदन करके सबसे सस्ते लोन का फायदा उठा सकते हैं.
इसके लिए जरूरी दस्तावेज के साथ आवेदन करिए. उसे स्वीकार करने 15 दिन के भीतर बैंक को कार्ड बनाना होगा. वरना आप मंत्रालय में इसकी शिकायत भेज सकते हैं. केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने बैंकर्स एसोसिएशन से कहा है कि वो गांवों में कैंप लगाकर किसानों के केसीसी (kisan credit card) बनाएं. दरअसल, सरकार चाहती है कि किसान साहूकारों से मोटे ब्याज पर लोन लेने के बजाय बैंकों से सस्ते दर पर पैसा लें. खेती में मुनाफा कमाएं और उसे लौटा दें.

कौन ले सकता है केसीसी
खेती-किसानी, मछलीपालन और पशुपालन से जुड़ा कोई भी व्यक्ति, भले ही वो किसी और की जमीन पर खेती करता हो, केसीसी का लाभ ले सकता है. अब किसान क्रेडिट कार्ड सिर्फ खेती-किसानी तक सीमित नहीं है. पशुपालन और मछलीपालन के लिए सिर्फ 2 लाख रुपये तक का कर्ज मिलेगा. जबकि कृषि के लिए 3 लाख रुपये मिलेंगे. केसीसी बनाने का काम एसबीआई (SBI), पीएनबी (PNB), एचडीएफसी (HDFC) सहित सभी प्रमुख बैंकों में हो रहा है.

केसीसी के लिए जरूरी दस्तावेज और पात्रता
-विधिवत भरा हुआ आवेदन पत्र
-पहचान का प्रमाण–मतदाता पहचान पत्र, पैन कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड (Aadhaar), डीएल आदि.
-किसी और बैंक में कर्जदार न होने का एफीडेविड.
-आवेदक की फोटो
-व्यक्तिगत खेती या संयुक्त कृषि कर रहे किसान इसके लिए पात्र हैं.
-पट्टेदार, बटाईदार किसान और स्वयं सहायता समूह भी लाभ ले सकते हैं.
-सभी सरकारी, निजी, सहकारी और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक इसे बना सकते हैं.
-आप कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए भी आवेदन कर सकते हैं.

सबसे सस्ता ब्याज और बिना गारंटी के 1.60 लाख रुपये
केसीसी पर लिए गए 3 लाख रुपये तक के कर्ज की ब्याज दर 9 फीसदी है. सरकार इसमें 2 फीसदी सब्सिडी दे देती है. ब्याज बचा 7 फीसदी. समय पर पैसा लौटाने वाले को 3 फीसदी और छूट मिलती है. इस तरह ईमानदार किसानों के लिए ब्याज दर महज 4 फीसदी हो जाती है. यही नहीं केंद्र सरकार ने 1.60 लाख रुपये तक की रकम लेने के लिए गारंटी खत्म कर दी है. पहले इसकी सीमा सिर्फ 1 लाख रुपये थी.

 


Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

 सक्ती16 hours ago

भाजपा ग्रामीण मंडल द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय  की जयंती मनाई

सक्ती(चैनल इंडिया)| भारतीय जनता पार्टी ग्रामीण मंडल समिति द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती ग्रामीण मंडल सक्ती  के ग्राम पंचायत...

channel india16 hours ago

आबकारी विभाग की में बड़ी कार्रवाई, शराब बनाने की अवैध फैक्ट्रीं का पर्दाफाश

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नरदाह विधानसभा रोड स्थित अवैध शराब फैक्ट्री बनाने का राजफाश हुआ है। वहां...

channel india16 hours ago

बंगाल की खाड़ी से आने वाला है एक और बड़ा खतरा, जानिए क्या है पूरा मामला….

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का सिस्टम, जो...

 अंबिकापुर16 hours ago

यहाँ शख्स की हत्या कर लाश को क्रेन से लटकाया, VIDEO वायरल…

काबुल. तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगानिस्तान के हालात अब तेजी से बदल रहे हैं. तालिबान ने शरिया...

balod district17 hours ago

छत्तीसगढ़ के VVIP सिटी में रेवेन्यू इंस्पेक्टर के साथ लूट…

दुर्ग.(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में महिला अधिकारी के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है. लूट...

Advertisement
Advertisement