खबरे अब तक

देश-विदेश

होली पर घर आए मेहमान को खिलाएं सौंफ-मिश्री, काले रंग से बना लें दूरी….जाने क्यों



उत्साह और उल्लास के पर्व होली पर आपके जीवन में नई खुशियां आएं। फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन मनाए जाने वाले इस त्योहार को वास्तु में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। होली के दिन कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए। आइए जानते हैं इस त्योहार से जुड़ी इन खास बातों को।

होलिका दहन कभी घर के भीतर नहीं करना चाहिए। होलिका की राख को घर के चारों ओर और दरवाजे पर छिड़कें। ऐसा करने से घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश नहीं होता है। होलिका दहन की राख को पुरुष अपने माथे पर और महिलाएं अपने गले पर लगाएं, ऐसा करने से ऐश्वर्य में वृद्धि होती है। होली पर घर आने वाले मेहमान को सौंफ और मिश्री जरूर खिलाएं, ऐसा करने से संबंध और मधुर होते हैं। होली के दिन किसी भी नए कार्य की शुरुआत नहीं करनी चाहिए। होली के दिन किसी को न तो धन देना चाहिए और न ही किसी से लेना चाहिए। होली के दिन अपना सिर ढंककर रखें। पुरुष सिर पर टोपी लगाएं तो महिला साड़ी का पल्लू सिर पर रखें। होली के दिन कपड़ों में गहरे रंगों का प्रयोग न करें। हल्के रंग के कपड़ों को प्राथमिकता दें। होली के दिन अपने घर पर लगी ध्वजा को बदलना शुभ माना जाता है। होली खेलने के लिए रंगों का चयन भी सावधानीपूर्वक करना चाहिए। पीला रंग सकारात्मकता लाता है तो वहीं नारंगी रंग सूर्यदेव का प्रतीक है। लाल रंग ऊर्जा को दर्शाता है। तो वहीं हरा रंग प्रकृति को दर्शाता है। होली पर गुलाबी रंग जीवन में नई खुशियां लाता है। होली पर काले रंग का प्रयोग न करें।

इसे भी पढ़े   1 जनवरी से हट जाएगी प्याज के निर्यात से पाबंदी, किसनों को मिलेगा लाभ