खबरे अब तक

देश-विदेश

हेल्थ टिप्स : हाइपरटेंशन को कंट्रोल करने के लिए इन चीजों का रोजाना करें सेवन…



आजकल हाइपरटेंशन एक आम समस्या बन गई है। खराब दिनचर्या, अनुचित खानपान, कम सोना और तनाव की वजह से कई प्रकार की बीमारियां जन्म लेती हैं। इनमें एक बीमारी हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप है। इस बीमारी में दिल की धमनियों में रक्त संचरण बड़ी तेजी से होने लगता है। इससे व्यक्ति को थकान, सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ होती है। हाइपरटेंशन का इलाज संभव है। लापरवाही बरतने पर यह खतरनाक साबित हो सकती है। इसके लिए कभी भी हाइपरटेंशन को हल्के में न लेकर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

सरकारी आंकड़ों की मानें तो देश में कुल 20 करोड़ लोग हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं। खासकर कोरोना काल में हाइपरटेंशन के मरीजों की संख्या में बड़ी तेजी से वृद्धि हुई है। विशेषज्ञों का कहना है कि हाइपरटेंशन से महिला और पुरुष दोनों ही पीड़ित हो सकते हैं। इस बीमारी से कई अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। इसके लिए सेहत का विशेष ख्याल रखना चाहिए। अगर आप भी हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं, तो हाइपरटेंशन को कंट्रोल करने के लिए डाइट में इन चीजों को जरूर शामिल करें। इनसे हाइपरटेंशन को कंट्रोल किया जा सकता है। आइए जानते हैं-

केले खाएं केले में पोटेशियम भारी मात्रा में पाया जाता है। यह एक ऐसा मिनरल्स है जो हाइपरटेंशन को कंट्रोल करने में अहम भूमिका निभाता है। इससे सोडियम का प्रभाव भी कम होता है। इसके लिए हाइपरटेंशन के मरीज को ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए रोजाना केले का सेवन जरूर करना चाहिए। चुकंदर का जूस पिएं एक शोध के अनुसार चुकंदर में नाइट्रेट्स उच्च मात्रा में पाया जाता है। नाइट्रेट्स उच्च रक्त चाप को कंट्रोल करता है, धमनियों को आराम पहुंचाता है और ऑक्सीजन का अनुकूलन करता है। साथ ही चुकंदर में मैग्नीशियम, पोटैशियम, विटामिन-सी, करोटेनोइड एंटीऑक्सिडेंट्स पाए जाते हैं। चुकंदर का जूस धमनियों को आराम पहुंचाता है। इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।
अलसी के बीज का सेवन करें आप अपनी अलसी के बीज का पाउडर को सलाद अथवा सब्जी में मिलाकर सेवन कर सकते हैं। अलसी में ओमेगा फैटी-3 एसिड पाया जाता है। यह ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसमें अल्फा लिनोलेनिक एसिड भी पाया जाता है। अलसी दिल और ब्लड शुगर लेवल के लिए फायदेमंद होता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी के गुण भी पाए जाते हैं। इससे इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम के प्रभाव कम होता है। अनार जूस पिएं अनार का जूस ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायता पहुंचाता है। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल में भी सुधार होता है। इसमें विटामिन-ए, सी, ई, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और खनिज पाए जाते हैं जो सेहत और सुंदरता दोनों के लिए फायदेमंद साबित होते हैं। अनार के सेवन से स्मरण शक्ति बढ़ती है और तनाव दूर होता है।

इसे भी पढ़े   2022 के लिए 'युवा प्लान' के साथ आगे बढ़ने की तैयारी में एसपी, साफ छवि वाले वर्कर्स का होगा सम्मान