हाथ, पैर, पसलियां तक चोटिल, टीम इंडिया के जख्‍मी शेरों ने उड़ाए कंगारुओं के होश – Channelindia News
Connect with us

(BCCI

हाथ, पैर, पसलियां तक चोटिल, टीम इंडिया के जख्‍मी शेरों ने उड़ाए कंगारुओं के होश

Published

on

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच 2020-21 सीरीज का तीसरा टेस्‍ट इतिहास के पन्‍नों में दर्ज हो गया है। टीम इंडिया के जख्‍मी शेरों ने कंगारुओं की आक्रामकता को अपने जज्‍बे से कुंद कर दिया। पांच घायल क्रिकेटर्स के साथ सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) पर भारतीय क्रिकेट टीम का ड्रेसिंग रूम किसी अस्‍पताल के वार्ड जैसा लग रहा है। इसके बावजूद, चेतेश्‍वर पुजारा, ऋषभ पंत, हनुमा विहारी, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन… इन्‍होंने जिस तरह बल्‍लेबाजी की, उसने सबको अपना मुरीद बना दिया। टेस्‍ट मैच के पांचवें दिन मौका आया तो एक ने भी अपने कदम पीछे नहीं खींचे। दर्द कम करने को एक-चौथाई भारतीय टीम ने दवाएं खाईं। कुछ को इंजेक्‍शन लगवाना पड़ा मगर ऑस्‍ट्रेलियाई पेसर्स का सामना करने में कोई जरा भी नहीं हिचका। विहारी और अश्विन ने मैच ड्रॉ कराके ही दम लिया।

Ind vs Aus, 3rd test 2021: सिडनी टेस्‍ट 2021 का आखिरी दिन भारतीय क्रिकेटर्स के जज्‍बे के लिए हमेशा याद किया जाएगा। चोटिल होने के बावजूद, चेतेश्‍वर पुजारा, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी ने जिस तरह मैच बचाने के लिए बल्‍लेबाजी की, उसकी हर तरफ तारीफ हो रही है।

IND vs AUS: हाथ, पैर, पसलियां तक चोटिल, लेकिन टीम इंडिया के जख्‍मी शेरों ने सिडनी में उड़ाए कंगारुओं के होश

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच 2020-21 सीरीज का तीसरा टेस्‍ट इतिहास के पन्‍नों में दर्ज हो गया है। टीम इंडिया के जख्‍मी शेरों ने कंगारुओं की आक्रामकता को अपने जज्‍बे से कुंद कर दिया। पांच घायल क्रिकेटर्स के साथ सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) पर भारतीय क्रिकेट टीम का ड्रेसिंग रूम किसी अस्‍पताल के वार्ड जैसा लग रहा है। इसके बावजूद, चेतेश्‍वर पुजारा, ऋषभ पंत, हनुमा विहारी, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन… इन्‍होंने जिस तरह बल्‍लेबाजी की, उसने सबको अपना मुरीद बना दिया। टेस्‍ट मैच के पांचवें दिन मौका आया तो एक ने भी अपने कदम पीछे नहीं खींचे। दर्द कम करने को एक-चौथाई भारतीय टीम ने दवाएं खाईं। कुछ को इंजेक्‍शन लगवाना पड़ा मगर ऑस्‍ट्रेलियाई पेसर्स का सामना करने में कोई जरा भी नहीं हिचका। विहारी और अश्विन ने मैच ड्रॉ कराके ही दम लिया।

क्रिटिक्‍स को चेतेश्‍वर पुजारा का जवाब
क्रिटिक्‍स को चेतेश्‍वर पुजारा का जवाब

इसे भी पढ़े   महेंद्र कर्मा के पीएसओ का AK47 मिला मानपुर में,  नक्सलियों के एनकाउंटर के बाद हुआ बरामद

पहली पारी में 150 से ज्‍यादा गेंदें खेलकर 35 से भी कम रन बनाने वाले चेतेश्‍वर पुजारा फैंस के निशाने पर थे। ऑस्‍ट्रेलियाई कमेंटेटर्स ने तो ऑन-एयर पुजारा की ‘स्‍लो बैटिंग’ की आलोचना की थी। पुजारा की खासियत ये है कि वे हर जवाब अपने बल्‍ले से देते हैं। सिडनी टेस्‍ट के आखिरी दिन जब भारत को मैच बचाने के लिए पूरे दिन बैटिंग करनी थी तो वही फैंस जो कल तक पुजारा को खरी-खोटी सुना रहे थे, उम्‍मीद लगाए बैठे थे कि पुजारा अपने अंदाज में बल्‍लेबाजी करेंगे। पुजारा ने वही किया। 205 गेंदें खेलीं और 77 रन बनाए। सबसे अहम बात, ऋषभ पंत के साथ मिलकर उन्‍होंने वो साझेदारी की जिसने ऑस्‍ट्रेलिया के जीतने की संभावनाओं को और कम कर दिया। इस दौरान पुजारा ने टेस्‍ट करियर में 6,000 रन भी पूरे किए।

खुद पानी भी नहीं पी रहे थे पंत
खुद पानी भी नहीं पी रहे थे पंत

ऋषभ पंत की हालत का अंदाजा इस बात से लगाइए कि जब ड्रिंक्‍स ब्रेक हुआ तो वह खुद पानी भी नहीं पी रहे थे। सब्‍स्‍टीट्यूट ने उनके मुंह में बोतल लगाई ताकि उन्‍हें अपनी बांह पर जोर न देना पड़े। जब लंच हुआ तो पंत अपना हेलमेट और ग्‍लव्‍स पिच पर ही छोड़ गए थे। पंत के जज्‍बे को भारतीय ड्रेसिंग रूम से भी शाबासी मिली। पंत ने तेज रफ्तार में बैटिंग की और 97 रन बनाकर नाथन लायन का शिकार हुए।

इसे भी पढ़े   प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के क्रियान्वयन में मिर्जापुर देशभर में अव्वल, पीएम नरेंद्र मोदी ने की सराहना

ड्रेसिंग रूम में बैठ तक नहीं पा रहे थे अश्विन
ड्रेसिंग रूम में बैठ तक नहीं पा रहे थे अश्विन

भारतीय टीम का वो खिलाड़ी जिसका काम विकेट लेना है, बैटिंग करना नहीं। अश्विन की पसलियों में चोट है। उनके कंधे में भी दर्द था। ड्रेसिंग रूम में बैठा तक नहीं जा रहा था मगर जब पंत आउट हुए तो बैट उठाकर चल पड़े। बीच-बीच में फिजियो बुलाकर वह दर्द में थोड़ा आराम पाते रहे मगर क्रीज नहीं छोड़ी। पैट कमिंस, जॉश हेजलवुड और मिशेल स्‍टार्क की गेंदों को शरीर पर झेलते रहे मगर उफ नहीं की। हालात ऐसे भी आए जब वो और हनुमा विहारी आपस में थाई पैड्स एक्‍सचेंज कर रहे थे।

शायद अगले टेस्‍ट में न खेल पाएं विहारी
शायद अगले टेस्‍ट में न खेल पाएं विहारी

हनुमा विहारी की हैमस्ट्रिंग में खिंचाव है। वह दौड़ नहीं पा रहे मगर उन्‍हें रनर नहीं मिल सकता। अश्विन के साथ क्रीज पर डटे विहारी से जब फिजियो नितिन पटेल ने पूछा कि क्‍या वह इस हालत में खेल सकते हैं तो उन्‍होंने दर्द सहने का फैसला किया। विहारी की चोट ऐसी है कि वह अगले टेस्‍ट में नहीं खेल पाएंगे मगर उन्‍होंने मैच बचाने के लिए शायद अपना करियर तक दांव पर लगा दिया है।

इसे भी पढ़े    नशीली कफ सिरफ के साथ दो आरोपी गिरफ्तार

बॉल पर बॉल, बस डिफेंड करते गए विहारी
बॉल पर बॉल, बस डिफेंड करते गए विहारी

हनुमा विहारी ने जैसी जीवटता सिडनी के मैदान पर दिखाई, वैसी विरले ही दिखा पाते हैं। खबर लिखे जाने तक उन्‍होंने 100 से ज्‍यादा गेंदें खेल ली थीं और सिर्फ 7 रन बनाए थे। कारण, दर्द की वजह से दौड़ नहीं सकते और शॉट खेलकर विकेट नहीं गंवाना चाहते हैं। विहारी ने इस पारी में टेस्‍ट क्रिकेट के भीतर 100 से ज्‍यादा गेंदें खेलकर दूसरा सबसे धीमा स्‍ट्राइक रेट का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है।

बार-बार मैदान पर आते रहे फिजियो
बार-बार मैदान पर आते रहे फिजियो

रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी ने करीब तीन घंटे क्रीज पर बिताए। एक-एक कर ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाज आते गए और पस्‍त होकर जाते रहे। बीच-बीच में दोनों फिजियो को बुलाते रहे, पैड्स बदलते रहे, दवाएं लेते रहे मगर मैदान नहीं छोड़ा।

इंजेक्‍शन लगाकर बैटिंग को तैयार जडेजा
इंजेक्‍शन लगाकर बैटिंग को तैयार जडेजा

रवींद्र जडेजा का बायां अंगूठा अपनी जगह पर नहीं है। वह इंग्‍लैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज में पहले दो टेस्‍ट से बाहर हो चुके हैं। मगर जज्‍बा देखिए, अगर आज जरूरत पड़ी तो इंजेक्‍शन लेकर बैटिंग करने सिडनी के मैदान पर उतरेंगे। फैंस तो यही दुआ कर रहे हैं कि इसकी जरूरत न पड़े।

बहुत कुछ कहती है टिम पेन की यह तस्‍वीर
बहुत कुछ कहती है टिम पेन की यह तस्‍वीर

मिशेल स्‍टार्क की गेंद पर टिम पेन ने हनुमा विहारी का कैच छोड़ दिया। पेन ने इस पारी में तीन कैच छोड़े जिसका खामियाजा ऑस्‍ट्रेलिया को भुगतना पड़ा।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

BREAKING15 hours ago

छतीसगढ़ ब्रकिंग ;रायपुर के 240 निजी स्कूलों की मान्यता रद्द

रायपुर ;जिला शिक्षा नें अधिकारी  जिले के 240 निजी स्कूलों की मान्यता तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी है| इसके...

channel india16 hours ago

धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलटा

चिरमिरी – ग्राम मेंड्रा में उस समय अफरातफरी का माहौल बन गया जब धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलट गया।...

channel india17 hours ago

वेब सीरीज “तांडव” पर छतीसगढ़ में भी मंचा तांडव, भारतीय जनता युवा मोर्चा ने किया पुतला दहन

रायपुर। वेब सीरीज  पर जब से “तांडव” आई है तब से इस वेब सीरीज नें देश के हर कोनें में...

बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक
channel india17 hours ago

बेरोजगार किसान मोर्चा: महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक

रायपुर। छत्तीसगढ़ से शिव सेना के प्रदेश सचिव संजय नाग ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि शिवसेना प्रदेश...

channel india18 hours ago

औघड़ आश्रम स्थापना दिवस कार्यक्रम: जरूरतमंदों को बांटा गया कंबल वितरण

जशपुर। जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे एवं पुलिस अधीक्षक बालाजी राव पत्थलगांव विकासखंड के शेखरपुर में स्थित औघड़ आश्रम  एवं औघड़...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement