अब छत्तीसगढ़ में भी सांप्रदायिकता फैलाने की कोशिशें शुरू हो चुकी हैं

अब छत्तीसगढ़ में भी सांप्रदायिकता फैलाने की कोशिशें शुरू हो चुकी हैं

रायपुर/ छत्तीसगढ़ पाठ्यपुस्तक निगम के अध्यक्ष और प्रदेश कांग्रेस के पूर्व संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने रायपुर प्रेस क्लब की /पदाधिकारी और सामाजिक सरोकार रखने वाली महिला पत्रकार ममता लांजेवार के निवास के समक्ष बजरंग दल के द्वारा की गई गुंडागर्दी की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा है कि यह किसी भी सभ्य समाज में स्वीकार्य नहीं है। 

बजरंग दल के असामाजिक तत्वों द्वारा इस तरह की गुंडागर्दी से स्पष्ट है कि हताश और निराश भाजपा और संघ परिवार की  छत्तीसगढ़ में भी सांप्रदायिकता फैलाने की कोशिशें अब शुरू हो चुकी हैं।  सार्वजनिक खेल के मैदान में बिना अनुमति के कोई भी निर्माण करना गैर कानूनी है। जन सरोकार रखने वाली महिला पत्रकार द्वारा इस पर आपत्ति व्यक्त करने पर उन्हें धमकाने और उनके घर जाकर दुर्व्यवहार करने धमकियां देने का कृत्य बेहद गलत और आपत्तिजनक  है। 

एक महिला पत्रकार को धमकाने का और उसके घर जाकर गुंडागर्दी का जो दुस्साहस बजरंग दल के असामाजिक तत्वों ने प्रदर्शित किया है वह स्वीकार्य नहीं है। इस मामले में यदि पुलिस द्वारा तत्काल कार्यवाही नहीं की जाती तो बजरंग दल के असामाजिक तत्व सीधे-सीधे गुंडागर्दी पर आमादा थे।