वैक्सीन लगने के बाद कितने दिन तक नहीं होगा कोरोना…जानिए – Channelindia News
Connect with us

देश-विदेश

वैक्सीन लगने के बाद कितने दिन तक नहीं होगा कोरोना…जानिए

Published

on



अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के निदेशक डायरेक्टर गुलेरिया ने शनिवार को कहा कि कोविड​​-19 टीका आठ से दस महीने तक संक्रमण से पूरी सुरक्षा देने में सक्षम हो सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि टीके का कोई बड़ा दुष्प्रभाव सामने नहीं आया है। गुलेरिया ने आईपीएस (सेंट्रल) एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, “कोविड​​-19 टीका आठ से दस महीने और शायद इससे भी ज्यादा समय तक संक्रमण से पूरी सुरक्षा दे सकता है।”

उन्होंने कहा कि मामलों में उछाल का सबसे बड़ा कारण यह है कि लोगों को लगता है कि महामारी खत्म हो गई है और वे कोविड से बचाव के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। अधिकारी ने कहा, “संक्रमण में वृद्धि के कई कारण हैं, लेकिन मुख्य कारण यह है कि लोगों के रवैये में बदलाव आया है और उन्हें लगता है कि कोरोना वायरस खत्म हो गया है। लोगों को अभी भी कुछ और समय के लिए गैर-जरूरी यात्रा को स्थगित करना चाहिए।”

वीके पॉल ने बताया- क्यों बढ़ रहे कोरोना केस
नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वी के पॉल ने कहा कि संक्रमण की श्रृंखला को रोकना होगा और इसके लिए टीका एक उपकरण है, लेकिन दूसरा है रोकथाम और निगरानी रणनीति। उन्होंने कहा, “कोविड-19 मानकों का पालन नहीं करना और लापरवाही उछाल का प्रमुख कारण है।” अधिक लोगों का टीकाकरण करने के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में, पॉल ने कहा कि टीके का यह मुद्दा सीमित है और यही कारण है कि प्राथमिकता तय की गई है।

इसे भी पढ़े   किसानों का अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल राजिम में 7 नवम्बर से

‘असीमित सप्लाई पर करते सभी का टीकाकरण’ 
उन्होंने कहा, “अगर हमारे पास असीमित आपूर्ति होती तो हम सभी के लिए टीकाकरण शुरू कर देते। यही कारण है कि हर किसी को टीके नहीं लगाए जा रहे हैं। दुनिया के अधिकांश देश इस वजह से प्राथमिकता समूह से आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं।” नीति आयोग के सदस्य ने यह भी कहा कि सबसे ज्यादा मृत्यु दर वृद्धावस्था वाले लोगों में देखी गई। उन्होंने कहा, “इन लोगों को टीके लेने में देरी नहीं करनी चाहिए। इसलिए संदेश यह है कि उन्हें इसकी आवश्यकता दूसरों की तुलना में अधिक है। यही कारण है कि उन्हें कोविड-19 टीके देने में प्राथमिकता दी गई है।”

इसे भी पढ़े   क्या होगा अगर ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करते वक्त IFSC कोड गलत हो जाए? पढ़ें पूरी खबर

अब तक चार करोड़ से अधिक का हुआ टीकाकरण
उपलब्ध कोविड-19 टीकों- कोवैक्सीन और कोविशील्ड की प्रभावशीलता के बारे में बात करते हुए गुलेरिया ने कहा, ”अगर हम दोनों टीकों को देखें, तो वे एक समान एंटीबॉडी का उत्पादन करते हैं और बहुत मजबूत हैं। हमें हमारे पास उपलब्ध टीके लगवाने चाहिए क्योंकि प्रभावकारिता और दीर्घकालिक सुरक्षा के संदर्भ में दोनों टीके समान रूप से प्रभावी हैं।” देश में अब तक चार करोड़ से अधिक लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं।

इसे भी पढ़े   India का करोड़पति नाई, जिसके पास Rolls Royce और Mercedes Benz जैसी 378 गाड़ियां

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

bihar60 mins ago

दुल्हन के लिए नकली जेवर लाने पर दुल्हे समेत बारातियों को लड़की वालों ने बंधक बना किया मार-पीट, मामला हुआ दर्ज…

उत्‍तर प्रदेश के देवरिया के लार क्षेत्र के खरवनिया पिंडी में शुक्रवार की रात बिहार से आई बारात में जयमाल...

bihar2 hours ago

केवल 17 मिनट में पूरी हुई शादी, दूल्हे ने दहेज में मांगी ऐसी चीज जिसे सुन सब हो गये हैरान

यूपी के शाहजहांपुर में 17 मिनट में हुई अनोखी शादी के बारे में जानकर आप भले अचंभित हो जाये लेकिन...

BREAKING2 hours ago

अगर इस बैंक में है आपका पैसा तो नही मिलेगा वापस, RBI ने रद्द कर दिया है लाइसेंस

भारतीय रिजर्व बैंक ने एक और सहकारी बैंक का लाइसेंस कैंसिल किया है. RBI पश्चिम बंगाल के को-ऑपरेटिव बैंक यूनाइडेट...

BREAKING9 hours ago

मारवाड़ी युवा मंच ने महापौर को सौंपा ज्ञापन, कहा : जल्द प्रारंभ हो कांटेक्ट फ्री ड्राइव-इन वैक्सीनेशन

रायपुर(चैनल इंडिया)। कांटेक्ट फ्री ड्राइव-इन वैक्सीनेशन सुविधा को लेकर मारवाड़ी युवा मंच नवा रायपुर शाखा अध्यक्ष  शुभम अग्रवाल ने महापौर...

BREAKING9 hours ago

छत्तीसगढ़: राजधानी समेत कई जिलों में सीजी टीका एप्प ने बढ़ाई मुश्किलें…

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ में 18 से 44 वर्ष के टीकाकरण के लिए शुरू किए गए वेब पोर्टल सीजी टीका में...

Advertisement
Advertisement