विभागवार समय-सीमा के लंबित प्रकरणों की कलेक्टर ने की समीक्षा...

विभागवार समय-सीमा के लंबित प्रकरणों की कलेक्टर ने की समीक्षा...

छत्तीसगढ़ डस्की 

गरियाबंद। कलेक्टर प्रभात मलिक ने मंगलवार को अधिकारियों की बैठक में विभागवार समय-सीमा के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। साथ ही अधिकारियों को प्रकरणों के निराकरण के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। समीक्षा के दौरान उन्होंने राजस्व विभाग के समय-सीमा प्रकरणों के निराकरण पर असंतोष व्यक्त करते हुए अधिकारियों को निर्धारित समयावधि के भीतर प्रकरण निराकृत करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को स्वामी आत्मानंद स्कूलों में प्रतीक्षा सूची से शिक्षकों की भर्ती में प्रगति लाने, जल संसाधन विभाग को स्वीकृत मुआवजा राहत राशि संबंधितों को भुगतान करने तथा ईई पीडब्ल्यूडी को देहारगुड़ा, लोहझर व गहराडीह में नवनिर्मित स्कूल भवन को शिक्षा विभाग को हैंडओवर करने के निर्देश दिये।

इसी प्रकार सीएमएचओ एवं सिविल सर्जन को जिला चिकित्सालय एवं विभिन्न शासकीय चिकित्सालयों में समय पर चिकित्सकों की उपस्थिति व मुख्यालय में रहने निर्देशित करने कहा। उन्होंने जिला पंचायत सीईओ को मनरेगा के सभी स्वीकृत कार्यो को प्रारंभ कराने तथा सभी जनपद सीईओ को संबंधित जनपद में देवगुड़ी स्वीकृति हेतु प्रस्ताव सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को प्रेषित करने निर्देशित किया। बैठक में राजिम माघी पुन्नी मेला तैयारी की भी समीक्षा की गई। साथ ही अवगत कराया गया कि राजिम माघी पुन्नी मेला का वेबसाईट बनाया जा रहा है। इस हेतु विभागीय अधिकारियों से आवश्यक जानकारियां उपलब्ध कराने कहा गया। बैठक में जिला पंचायत सीईओ रोक्तिमा यादव, अपर कलेक्टर अविनाश भोई, सभी एसडीएम, सभी जनपद सीईओ सहित जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।