खबरे अब तक

खबरे छत्तीसगढ़

राजधानी : श्मशान घाटों में कम पड़ रही जगह….जानिए क्यों



रायपुर: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के साथ ही रायपुर में कोरोना से होने वाली मौत की संख्या भी लगातार बढ़ते जा रही है। रायपुर में हर दिन औसत कोरोना से 18 से 20 लोगों की मौत हो रही है, जिसके कारण श्मशान घाटों में कोरोना वाले शवों के दहन के लिए जगह कम पड़ रही है।

इसे भी पढ़े   कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान में अब तक 51 हजार 830 घरों में सर्वे

अब हालात ऐसे हैं कि शेड के नीचे शवों को पास-पास रखकर जलाना पड़ रहा है। वहीं, लकड़ी और कंडे की खपत भी कई गुना बढ़ गई है। देवेंद्र नगर शमशान घाट में तो ये स्थिति है की इलेक्ट्रिक शवदाह गृह खराब हैं। जिस शेड में 3 शव जलाए जाते हैं, वहां 6 शव जलाने पड़ रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से शु​क्रवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार कल प्रदेश में 2666 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई थी और 570 स्वस्थ्य हुए थे। कल ही 22 संक्रमितों की मौत भी हुई थी, इसके बाद प्रदेश में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 4048 हो गया था। वहीं, प्रदेश में कुल कोरोना मरीजों के आंकड़ों पर गौर करें तो यहां अब तक 3 लाख 34 हजार 778 संक्रमितों की पुष्टि हुई है। इनमें से 3 लाख 15 हजार 423 मरीज स्वस्थ हुए हैं। जबकि 15307 मरीजों का उपचार अभी भी जारी है।

इसे भी पढ़े   रायपुर : कृषिमंत्री ने बेमेतरा में किया डेयरी पॉलिटेक्निक का शुभारंभ : प्रथम बैच में 11 छात्र-छात्राओं ने लिया प्रवेश