बिहार: बेसहारा महिला के बच्चे के लिए गोद लेने वालों की लग गई लाइन, मगर तभी पंचायत के फैसले ने कामय कर दी मिसाल – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

बिहार: बेसहारा महिला के बच्चे के लिए गोद लेने वालों की लग गई लाइन, मगर तभी पंचायत के फैसले ने कामय कर दी मिसाल

Published

on

हनुमतेश्वर दयाल, पालीगंज (पटना):पटना से सटे पालीगंज में एक अजब मामला सामने आया है। यहां के हल्दीछपरा गांव में गुरुवार की सुबह मानसिक रुप से बीमार एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया। बच्चे के जन्म की जानकारी मिलते ही गांव के बाहर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। लेकिन किसी को ये पता नहीं था कि महिला कहां से आई है और उसके बच्चे का पिता कौन है। इसी बीच बच्चे को गोद लेने के लिए लोगों की लाइन लग गई।

पंचायत ने लिया महिला के हक में फैसलागांव की पंचायत को जब ये पता चला तो पंच भी मौके पर पहुंच गए। पता चला कि महिला हल्दीछपरा मार्ग पर दुधेला पुल के पास करीब एक माह से मानसिक रुप से बीमार महिला रह रही थी। लेकिन वो कहां से आई थी ये किसी को पता नहीं था। मंगलवार की सुबह एक झोपड़ीनुमा बन्द दुकान में उसने एक बच्चे का जन्म दिया। इधर पंचों को ये चिंता थी कि बच्चे को गोद लेने के बाद बेसहारा महिला कहां जाएगी। लिहाजा पंचों ने आपस में राय मशवरा किया और एक नतीजे पर पहुंचे। पंचों ने साफ कर दिया कि जो भी बच्चे को गोद लेगा उसे महिला को भी अपनाना पड़ेगा। इसके बाद गोद लेने की इच्छा जाहिर करनेवाले ज्यादातर लोग गायब हो गए।

इसे भी पढ़े   जिले के नवपदस्थ कलेक्टर ने जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण कोविड-19 के रोकथाम और नियंत्रण के उपायों के तहत अब तक की तैयारियों का जाजया लिया

हालांकि इसी इलाके के मुंजी टोला निवासी एक शख्स ने पंचों की शर्त मान ली। वो शख्स निसंतान हैं इसीलिए उन्होंने महिला और नवजात बच्चे को अपनाने का फैसला कर लिया है। लेकिन अभी भी एक सवाल इलाके में सबके मन में है कि कहीं इस बेसहारा और मानसिक रुप से बीमार महिला के साथ किसी ने ज्यादती तो नहीं की।

धनबाद में बेटी को मंदिर के दरवाजे छोड़ गई मांइसी तरह की एक घटना मंगलवार को झारखंड में सामने आई है। धनबाद के तिसरा थाना क्षेत्र को गोल्डन पहाड़ी शिव मंदिर के गेट पर एक नवजात बच्ची लोगों को पड़ी दिखी। इलाके में चर्चा हुई और फिर भीड़ मौके पर इकट्ठी हो गई। वहीं की रहनेवाली एक महिला ने उसे बच्ची को अपनी गोद में उठा लिया।इसी बीच तीसरा थाना की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। थाने में ही चौकीदार के पद पर तैनात महिला ने उस बच्ची को अपने गोद मे ले लिया। ठंड के चलते बच्ची की तबीयत बिगड़ गई थी।

इसे भी पढ़े   चांदनी चौक में मंदिर गिराने पर भिड़ीं बीजेपी और आप, एक दूसरे पर जमकर लगाए आरोप

बच्ची को अपनाने के लिए खड़ी दो-दो माताएंबच्ची की स्थिति ठीक नहीं थी इसलिए पुलिस ने बच्ची को एसएनएमएमसीएच अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया। अस्पताल में बच्ची का पीडियाट्रिक्स वार्ड के एनआईसीयू में इलाज चल रहा है। स्थानीय पिंकी देवी नाम की महिला और तीसरा थाना की चौकीदार जया देवी बच्ची को पाने की जिद में एनआईसीयू के बाहर आस लगाए खड़ी है। पिंकी देवी का कहना है कि ‘शादी के दस सालों बाद भी हमें कोई बच्चा नहीं हुआ है। ये बच्ची मुझे एक तरह से भगवान ने दी है। शिव मंदिर के गेट के पास बच्ची मुझे मिली है। मैं खुद इसे गाड़ी से यहां अस्पताल लेकर पहुंची हूं। मेरा कोई बच्चा नहीं है।स्वस्थ हो जाने पर मैं इसे ले जाऊंगी और सही से लालन पालन करूंगी।

वहीं तीसरा थाना की चौकीदार जया देवी का कहना है कि ‘मेरी बेटी को कोई बच्चा नहीं है। मैं इसे अपनी बेटी को इसके लालन पालन के लिए देना चाहती हूं।मेरी बेटी इस बच्ची का लालन पालन करने के लिए बेहद उत्साहित है।’

इसे भी पढ़े   सुपरस्टार बनते ही महंगी शराब के शौकीन हो गए ये 6 सितारे, नंबर 1 पीता है 8 लाख तक की शराब

बच्ची को फिलहाल इलाज की जरुरतवहीं एसएनएमएमसीएच अधीक्षक डॉ एके चौधरी ने कहा है कि बच्ची का स्वास्थ्य ठीक नहीं था। फिलहाल उसका इलाज चल रहा है। लावारिश बच्ची के बारे चाइल्ड वेलफेयर को सूचना दे दी गई है। वहीं इस पूरे मामले पर बाल कल्याण समिति के पदाधिकारी विद्योत्तमा बंसल ने कहा कि जिसे भी बच्ची को गोद लेना है उसे पहले सरकारी प्रकिया से गुजरना पड़ेगी। कारा(CARA) में उन्हें रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा। कारा उस परिवार की वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी करेगा। पूरी जांच के बाद ही बच्ची को कानूनी प्रक्रिया के तहत चुने गए परिवार को सौंपा जाएगा।

लेकिन नसीब देखिए, एक मां न जाने किन मजबूरियों के चलते अपनी बेटी को मंदिर के बाहर छोड़ गई। मजबूरी शब्द का इस्तेमाल हम इसलिए कर रहे हैं क्योंकि कोई भी मां अपनी कोख के जन्में को कलेजे पर पत्थर रखकर ही छोड़ सकती है। लेकिन उसी बेटी के लिए अस्पताल के बाहर दो-दो माताएं आस लगाए बैठी हैं। बेटी तो बेटी होती है, जिसके आंगन में जाएगी उसमें खुशबू ही फैलाएगी

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

BREAKING4 hours ago

बड़ी खबर: नक्सलियों द्वारा लगाए गए बम पर सूअर का पैर पड़ने से हुआ ब्लास्ट, बाल-बाल बचे जवान

बीजापुर। सुरक्षाबलों द्वारा नक्सलियों के विरुद्ध कार्यवाही जारी है,लेकिन बार-बार नक्सली अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। ताजा मामला बीजापुर...

channel india5 hours ago

केंद्र एवं छत्तीसगढ़ सरकार की किसान व बेरोजगार विरोधी नीतियों से जनता त्रस्त : शिवसेना

अंतागढ। शिवसेना नेता प्रवीण पांडे, रामनारायण उसेंडी, राजेंद्र यादव, राजकुमार कुमरा, जितेंद्र पांडे ने बताया है कि देश एवं प्रदेश...

mahadev kavre mahadev kavre
channel india5 hours ago

कलेक्टर महादेव कावरे के मार्गदर्शन में कल के तीन केन्द्रों में लगभग 300 लोगों को लगाया जाएगा कोरोना वेक्सीन

जशपुर। प्रथम चरण में चिकित्सा विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, आंगनबाड़ी कार्यकत्ता,सहायिका और मितानिनों को टीका लगाया जाना है । मुख्य...

channel india5 hours ago

पर्यटन स्थल भोरमदेव एवं मंदिर मे व्याप्त अव्यवस्था को लेकर आरोप-प्रत्यारोप जारी

कवर्धा। भोरमदेव प्रबंध कमेटी के सह-सचिव एवं सामाजिक कार्यकर्ता बृजलाल अग्रवाल ने भोरमदेव पर्यटन स्थल एवं मंदिर मे व्याप्त अव्यवस्था...

channel india6 hours ago

निषाद समाज द्वारा मनाया गया गुहा जंयती, मुख्य अतिथि के रुप मेंशामिल हुए कृषक नेता योगेश तिवारी

  बेमेतरा। बेमेतरा विधानसभा बेरला ब्लाक के ग्राम गबदा में निषाद समाज द्वारा गुहा जंयती मनाया गया मुख्य अतिथि के...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement