महासमुंद जेल से फरार बंदी को पुलिस ने झारखण्ड से किया गिरफ्तार...

महासमुंद जेल से फरार बंदी को पुलिस ने झारखण्ड से किया गिरफ्तार...

छत्तीसगढ़ डेस्क

महासमुंद। जिला जेल से फरार बंदी को पुलिस ने हजारीबाग झारखण्ड से गिरफ्तार किया है। उक्त बंदी को चिकित्सक के द्वारा जिला अस्पताल महासमुंद रिफर करने पर पेशी पश्चात् जिला जेल दाखिल किया गया था। उक्त विचाराधीन बंदी को जिला अस्पताल रिफर के परिपालन में जेल प्रहरी के द्वारा जिला अस्पताल महासमुंद भेजा गया था। जहाँ विचाराधीन बंदी का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा था। जिला अस्पताल महासमुंद में ईलाज के दौरान उक्त विचाराधीन बंदी जिला अस्पताल से मौका देखकर फरार हो गया । जिसके संबंध में सहायक जेल अधीक्षक जिला जेल महासमुंद के द्वारा आवेदन पत्र प्रस्तुत करने पर थाना सिटी कोतवाली महासमुंद में अपराध कमांक 407 /2022 धारा 224 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

प्रकरण की गंभीरता एवं संवेदनशीलता को देखते हुए थाना महासमुंद पुलिस के द्वारा तत्काल पुलिस टीम तैयार किया गया। जिनको अलग अलग क्षेत्रों सरायपाली एवं बागबाहरा इलाकों में भेजा गया। जिनके द्वारा फरार बंदी की परिजनों से लगातार पूछताछ कर पृथक से मुखबीर भी लगाया गया। इसी दौरान मुखबीर के द्वारा फरार बंदी को झारखण्ड बिहार के किसी ईटा भट्ठा में नाम बदल कर काम करने की सूचना दिया गया। इस सूचना को सरायपाली एवं बागबाहरा क्षेत्र के ऐसे लोग जो पूर्व में इन राज्यों में जाकर ईटा भट्ठा में काम किए है। उनको फरार बंदी की फोटो दिखाकर तस्दीक किया गया।

जिनमें से झारखण्ड में काम करने वाले एक मजदूर के द्वारा उक्त फरार बंदी की फोटों को पहचान कर ग्राम मेरू जिला हजारीबाग ;झारखण्ड स्थित ईंट भट्ठा में करने की संदेह व्यक्त किया गया। जिसके पश्चात थाना महासमुंद से पुलिस टीम तैयार कर तत्काल जिला हजारीबाग झारखण्ड भेजा गया। जिन्होने जिला हजारीबाग के ग्राम मेरू में स्थित लगभग चार पांच ईटा भट्ठा में काम करने वालें छत्तीसगढ़ से आए मजदूरों के संबंध में जानकारी संकलित कर संदेही का पत्तासाजी कर उसके ठिकाने की रेकी किया गया। जिला हजारीबाग में रेकी के दौरान ग्राम मेरू में उक्त फरार बंदी के द्वारा एक ईटा भट्ठा में अपना नाम बदल कर काम करने की जानकारी प्राप्त हुआ। जिसके पश्चात थाना महासमुंद से भेजे गए पुलिस टीम के द्वारा स्थानीय पुलिस की सहयोग से थाना मुफ्फसिल जिला हजारीबाग ;झारखण्ड के ग्राम मेरू स्थित ईंट भट्ठा में दबिश देकर फरार आरोपी यादराम ठाकुर को हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया। जो अपना जुर्म स्वीकार किया। जिसे गिरफतार कर माननीय न्यायालय जिला हजारीबाग़ झारखण्ड से ट्रॉसिट रिमाण्ड पर थाना महासमुंद लाया गया है। इस प्रकार जिला जेल से फरार बंदी को जो जिला हजारीबाग झारखण्ड में अपना नाम बदल गर ईटा भट्ठा में काम कर रहा था। उसे थाना महासमुंद पुलिस टीम के द्वारा जिला हजारीबाग झारखण्ड से महासमुंद ट्रांजिट रिमाण्ड पर लाया गया।