खबरे अब तक

देश-विदेश

पीएम बोले- दीदी ने आपके अधिकारों को कुचला,10 खास बातें…पढ़िये



खड़गपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Election 2021) के मद्देनजर शनिवार को राज्य स्थित खड़गपुर में रैली की. इस दौरान पीएम ने सीएम ममता बनर्जी और सत्ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. पीएम ने अप्रत्यक्ष तौर राज्य के पुलिस और प्रशासनिक व्यवस्था पर भी सवाल उठाए. उन्होंने पुलिस और प्रशासन को संविधान के मर्यादा की याद दिलाते हुए कहा कि राज्य सरकार ने युवाओं के 10 साल खराब कर दिए. पीएम ने अपने संबोधन बीजेपी की बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष की भी प्रशंसा की.

पीएम ने कहा कि बाबा साहेब के बनाए संविधान ने प्रत्येक भारतीय को वोट की आजादी दी है. लेकिन बंगाल में ममता दीदी, वोट करने की आपकी ताकत को छीनती रही हैं, लूटती रही हैं. 2018 के पंचायत चुनाव में जिस तरह दीदी ने आपके अधिकारों को कुचला, वो दुनिया ने देखा है.

यहां पढ़ें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन की 10 खास बातें

प्रधानमंत्री ने कहा- पिछले 10 साल में तृणमूल सरकार ने हर वो काम किया, जो यहां रोज़गार और स्वरोज़गार के अवसरों को रोकने वाला था. तृणमूल के वसूली गिरोहों, सिंडिकेट के कारण अनेक पुराने उद्योग बंद हो गए. यहां सिर्फ एक ही उद्योग चलने दिया गया है- माफिया उद्योग.
पीएम ने कहा कि सुबर्णरेखा नदी और कंसवती नदी में अवैध खनन के तार कहां से जुड़े हैं ये यहां का बच्चा-बच्चा जानता है. बंगाल में बीजेपी सरकार आने के बाद, इन सभी पर सख्त कार्रवाई होगी, कानून का राज स्थापित किया जाएगा.
बंगाल चुनाव में बीजेपी के स्टार प्रचारक मोदी ने कहा- देश निरंतर सिंगल विंडो सिस्टम की तरफ बढ़ रहा है. लेकिन पश्चिम बंगाल में एक अलग तरह का सिंगल विंडो सिस्टम बना दिया गया है.ये सिंगल विंडो है- भाइपो विंडो. पश्चिम बंगाल में इस विंडो से गुज़रे बिना कुछ नहीं हो सकता.
प्रधानमंत्री ने कहा- शहरों में रेहड़ी-ठेला चलाने वाला गरीब पूछ रहा है कि उनको पीएम स्वनिधि के तहत आर्थिक मदद सही से क्यों नहीं मिली? आज बंगाल की बहनें पूछ रही हैं कि हर घर जल पहुंचाने के लिए टीएमसी सरकार को जो पैसा दिया था, वो पैसा तिजोरी में रखकर क्यों बैठ गईं? अरे दीदी, आपको मोदी को क्रेडिट नहीं देना था, तो मत दीजिए. लेकिन, आपने गरीब के पेट पर लात क्यों मारी? आपने रेहड़ी-पटरी वालों के पेट पर लात क्यों मारी?
पीएम ने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से बीते वर्षों में बंगाल के लिए 33 लाख पक्के घर स्वीकृत किए गए हैं. इनमें से लाखों घर अब भी पूरे नहीं हो पाए हैं. दीदी को लगता है कि इन सब योजनाओं का फायदा लोगों को होगा तो वो मोदी को आशीर्वाद देंगे. दीदी से पश्चिम बंगाल के लोग 10 साल का हिसाब मांग रहे हैं.अम्फान चक्रवात का हिसाब मांगो, तो दीदी गुस्सा! राशन चोरी का जवाब मांगो, तो जेल में डाल दिया जाता है! कोयला घोटाले पर जवाब मांगो, तो पुलिस से डंडे मरवाए जाते हैं!
मोदी ने कहा कि आज पश्चिम बंगाल में शिक्षा की क्या स्थिति है, ये खड़गपुर के लोग बहुत अच्छी तरह जानते हैं. शिक्षक भर्ती के नाम पर यहां का युवा कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने के लिए मजबूर हैं. दीदी ने बंगाल के युवाओं के 10 बहुत महत्वपूर्ण वर्ष बर्बाद किए हैं.उनकी पार्टी क्रूरता की पाठशाला है, और इसका पाठ्यक्रम तोलाबाज़ी, कट-पैसा, सिंडिकेट है और लोगों को परेशान करने और परेशान करने के लिए एक प्रशिक्षण केंद्र है.
पीएम ने कहा कि कल रात, 50-55 मिनट के लिए, व्हाट्सएप, फेसबुक और इंस्टाग्राम डाउन था. जिसने सभी को चिंतित कर दिया! यहां बंगाल में, विकास, विश्वास, सपने 50-55 साल से डाउन है और ऐसे में बदलाव लाने के लिए आपकी अधीरता को समझता हूं!
मोदी ने कहा- आज दीदी, दस ‘ओन्गीकार’ की बात कर रही हैं. अरे दीदी, बंगाल के लोगों ने आपको दस साल सेवा का अवसर दिया था. लेकिन आपने उन्हें लूट-मार से भरे दस साल दिए. आपने उन्हें 10 साल का भ्रष्टाचार दिया. आपने उन्हें 10 साल का कुशासन दिया.
मोदी ने कहा कि लेकिन यहां पश्चिम बंगाल में दीदी, विकास की हर योजना के सामने दीवार बनकर खड़ी हो गई हैं. आपने दीदी पर भरोसा किया, लेकिन दीदी ने आपको दुर्नीति दी, आपके साथ विश्वासघात किया. जहां-जहां राज्यों में भाजपा सरकारें हैं, वहां केंद्र और बीजेपी की राज्य सरकार मिलकर डबल इंजन की ताकत के साथ जनता-जनार्दन की सेवा में लगे हुए हैं. हम सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र के साथ काम कर रहे हैं.
पीएम ने कहा कि जनसंघ के जनक इसी बंगाल के सपूत थे. इसलिए अगर यहां सही अर्थ में कोई बंगाल की पार्टी है तो वो है बीजेपी. बीजेपी के डीएनए में आशुतोष मुखर्जी और डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का आचार, विचार, व्यवहार और संस्कार है. इस क्षेत्र में कृषि, सिंचाई और कोल्ड स्टोरेज सुविधाओं को बेहतर बनाया जाएगा. हम स्वास्थ्य सुविधाओं और ग्रामीण सड़कों को भी बेहतर बनाएंगे. हम इस क्षेत्र के हर घर में पीने का साफ पानी सुनिश्चित करेंगे.