पहले करता हूं मुश्किल काम…. ‘परीक्षा पे चर्चा’ में पीएम मोदी ने बताया अपना वर्किंग स्टाइल – Channelindia News
Connect with us

देश-विदेश

पहले करता हूं मुश्किल काम…. ‘परीक्षा पे चर्चा’ में पीएम मोदी ने बताया अपना वर्किंग स्टाइल

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को स्टूडेंट्स, टीचर्स और पैरेंट्स से ‘परीक्षा पे चर्चा’ की। उन्होंने परीक्षा को बहुत छोटा सा पड़ाव बताते हुए कहा कि जिंदगी अभी बहुत लंगी है। इस दौरान कई पड़ाव आते रहते हैं। हमें दबाव नहीं बनाना चाहिए, फिर चाहे वह टीचर हो, स्टूडेंट हो, परिवार वाले हों या फिर दोस्त ही क्यों न हों। उन्होंने कहा कि अगर बाहर का दबाव कम हो गया या खत्म हो गया तो एग्जाम का दबाव कभी महसूस नहीं होगा। वर्चुअल तरीके से आयोजित हुए कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कई स्टूडेंट्स के सवाल भी लिए और उसके जवाब दिए। उन्होंने अपनी वर्किंग स्टाइल भी बताई। पीएम मोदी ने कहा कि वे सबसे पहले मुश्किल काम करते हैं।

कार्यक्रम में पीएम मोदी ने बताया अपना अनुभव
‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना अनुभव भी साझा किया। उन्होंने कहा कि जब मैं मुख्यमंत्री था, उसके बाद मैं प्रधानमंत्री बना तो मुझे भी बहुत कुछ पढ़ना पढ़ता है। बहुत कुछ सीखना पड़ता है। चीजों को समझना पड़ता है। तो मैं क्या करता हूं कि जो मुश्किल बातें होती हैं, मैं सुबह शुरू करता हूं तो कठिन चीजों से शुरू करना पसंद करता हूं। मुश्किल से मुश्किल चीजें मेरे अफसर मेरे सामने लेकर आते हैं, उनको मालूम होता है कि मेरा अलग मूड है। मैं चीजों को काफी तेजी से समझ लेता हूं। फैसला करने की दिशा में आगे बढ़ता हूं। मोदी ने आगे कहा कि सुबह होते ही मैं कठिन चीजों से मुकाबला करने निकल जाता हूं।

हम थोड़ा ज्यादा सोचने लगते हैं’
प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रम में कहा कि आपको डर एग्जाम का नहीं है, आपको डर किसी और का है और वह क्या है? आपके आस-पास एक माहौल बना दिया गया है कि यही एग्जाम सब कुछ है, यही जिंदगी है। हम थोड़ा ज्यादा सोचने लग जाते हैं। परीक्षा जीवन को गढ़ने का एक अवसर है, उसे उसी रूप में लेना चाहिए।  हमें अपने आप को कसौटी पर कसने के मौके खोजते ही रहना चाहिए, ताकि हम और अच्छा कर सकें। हमें भागना नहीं चाहिए। पीएम मोदी ने कहा, ”हमारे यहां एग्जाम के लिए एक शब्द है- कसौटी। मतलब खुद को कसना है, ऐसा नहीं है कि एग्जाम आखिरी मौका है। बल्कि एग्जाम तो एक प्रकार से एक लंबी जिंदगी जीने के लिए अपने आप को कसने का उत्तम अवसर है।”

Advertisement

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING3 hours ago

झारखंड में शराब की बिक्री बढ़ाने में मदद करेगा छग मॉडल

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ सरकार पड़ोसी राज्य झारखंड में शराब की बिक्री बढ़ाने में मदद करेगी. झारखंड सरकार को छत्तीसगढ़ की नई...

CHANNEL INDIA NEWS3 hours ago

कलशयात्रा के साथ शुरू हुआ दो दिवसीय शाकंभरी जयंती, हजारो की संख्या में शामिल हुए सामाजिक जन

कवर्धा(चैनल इंडिया)| पौष पूर्णिमा के अवसर पर आज सभी गावो में मरार पटेल समाज के द्वारा अपने समाज की आराध्या...

BREAKING5 hours ago

कोरोना ‘वरदान’: देश के धन कुबेरों की संपत्ति हुई दोगुनी, 10 रईसों के पास इतना पैसा कि सभी बच्चों को 25 साल तक मिल जाएगी शिक्षा

कोरोना महामारी देश के 84 फीसदी परिवारों के लिए मुसीबत बनकर आई तो धन कुबेरों के लिए वरदान। महामारी के...

BREAKING5 hours ago

प्रेमिका बोली ‘स्टेशन के पास मिलने आओ, नहीं तो बदनाम कर दूंगी’ फिर शराब के साथ पहुंचा प्रेमी और दिया इस खौफनाक घटना को अंजाम….

रायगढ़(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में एक सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है जहां एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की...

BREAKING6 hours ago

Omicron का कम्युनिटी स्प्रेड, इस जिले में 3 नए संक्रमित, इनमें 2 साल का बच्चा भी

बिलासपुर(चैनल इंडिया)| बिलासपुर में ओमिक्रोन के कम्यूनिटी स्प्रेड का खतरा बढ़ गया है। रविवार को मिले तीन ओमिक्रॉन संक्रमित में...

Advertisement
Advertisement