पत्रकार के बेटे की हत्या, जंगल में मिला अधजला शव, बीजेपी ने सरकार पर साधा निशाना – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

पत्रकार के बेटे की हत्या, जंगल में मिला अधजला शव, बीजेपी ने सरकार पर साधा निशाना

Published

on


रवि सिन्हा, रांची
झारखंड के खूंटी में पत्रकार अनिल मिश्रा के 28 वर्षीय बेटे संकेत कुमार मिश्रा की अज्ञात अपराधियों ने निर्मम हत्या (Murder in Jharkhand) कर दी। अपराधियों ने गला रेत कर हत्या करने के बाद सबूत छिपाने के लिए शव को जलाने की भी कोशिश की। कर्रा थाना क्षेत्र के छाता नदी किनारे जंगल से पुलिस ने गुरुवार को मृतक का जला शव बरामद () किया। इस सनसनीखेज वारदात को लेकर हंगामा बढ़ने लगा है। पत्रकारों के कई संगठन ने इस घटना की निंदा की है और पुलिस से अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की है। बीजेपी ने भी कानून व्यवस्था को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाना () साधा।

इसे भी पढ़े   केशवपुर गोठान में महिलाओं ने सुनी लोकवाणी, जो वादा किया है उसे जरूर पूरा करेंगे – सीएम बघेल

परिजन बोले- ऑफिस के लिए निकला था बेटापरिजनों ने बताया कि 5 जनवरी से काम पर निकलने की बात कह कर संकेत घर से मोपेड से निकले थे। पुलिस को स्थानीय लोगों ने छाता नदी किनारे सखुआ जंगल के बीच एक शव होने की सूचना दी। सूचना के आधार पर पुलिस ने घटनास्थल पर मृतक का शव, खून के छींटे और कुछ दूरी पर मोपेड और हेलमेट बरामद किया। जांच में मृतक की पहचान तेरपा के पत्रकार अनिल मिश्रा के 28 वर्षीय बेटे संकेत कुमार मिश्रा के तौर पर हुई।

सबूत छिपाने के लिए आरोपियों ने लगा दी आगअनिल मिश्रा खूंटी के तोरपा के रहने वाले हैं, उनके दो पुत्रों में छोटे संकेत मिश्रा ने रांची में एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम पकड़ा था। वह अस्थायी तौर पर रातू स्थित ससुराल में रह रहे थे। पुलिस अधिकारियों का कहना कि शुरूआती जांच में मामला हत्या का प्रतीत हो रहा है। हत्या के बाद शव छिपाने की नीयत से आग लगाई गई। पुलिस का दावा है कि मृतक के अंतिम लोकेशन और कॉल डिटेल के आधार पर 24 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इसे भी पढ़े   जानें, कौन हैं भारतीय मूल की वनिता गुप्‍ता जिनकी जो बाइडन ने की तारीफ

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर निशानाबताया गया है कि अनिल मिश्रा ने बेटे के लाश की पहचान की। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। इस बीच पत्रकारों के कई संगठनों ने इस घटना की निंदा की है। पुलिस से अपराधियों के गिरफ्तारी की मांग की है। साथ ही पीड़ित परिवार के लिए सरकार से मुआवजा भी मांगा है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने इस घटना के बाद हेमंत सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस सरकार में कानून व्यवस्था का डर समाप्त हो गया है। हेमंत सरकार राज्य को संभालने में असफल साबित हुई है। हालात यह है कि पत्रकार के परिवार भी इस राज्य में सुरक्षित नहीं है।

इसे भी पढ़े   सूरजपुर : कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिये जिले में कंटेन्मेंट जोन स्थापित, नोडल अधिकारी करेंगे व्यवस्थाओं का सुचारु संचालन,  ग्रामीणो की जरूरत से संबंधित आवश्यकता पूर्ति होगी डोर टू डोर

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING13 mins ago

ASI ने लिया फैसला, 16 जून से खुल जाएंगे केन्द्र द्वारा संरक्षित सभी स्मारक और संग्रहालय

देश में कोरोना का प्रकोप कम हो रहा है और शहर, बाजार, दुकानें खुलने लगी हैं। इसे देखते हुए ASI...

BREAKING59 mins ago

अनोखा ऑफर : कोरोना वैक्सीन लगवाने पर इनाम में मिलेगी 10 लाख की कार

कोरोना महामारी के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान दुनियाभर में चलाया जा रहा है और लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए लुभाने...

BREAKING1 hour ago

एक सेल्फी ने ले ली MBBS की छात्रा की जान, पढ़े पूरी खबर

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक सेल्फी के चक्कर में लड़की की जान चली गई. सेल्फी लेने के चक्कर में...

BREAKING2 hours ago

अपने लंबे बालों की वजह से इस आर्टिस्ट को जाना पड़ा जेल…

पाकिस्तान के अबुजार मधु को अपने बालों के चलते अजीबोगरीब परिस्थितियों का सामना करना पड़ता रहा है. पाकिस्तान के पंजाब...

BREAKING2 hours ago

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना : 12 रुपये के प्रीमियम पर 2 लाख का इंश्योरेंस, जानें कैसे कर सकते है आवेदन

मोदी सरकार ने साल 2015 में तीन सामाजिक सुरक्षा योजना की शुरुआत की थी. इसमें एक है प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा...

Advertisement
Advertisement