खबरे अब तक

देश-विदेश

न्यूड फ़ोटोशूट, 11 महिलाएँ गिरफ़्तार……….



दुबई में एक समूह को एक बालकनी में न्यूड फोटोशूट के बाद सार्वजनिक नग्नता के आरोप में गिरफ़्तार किया गया है.

शनिवार को ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो फुटेज में नग्न महिलाओं का एक समूह नज़र आ रहा है जो एक बालकनी पर हैं और उनकी तस्वीरें ली जा रही है.

यूक्रेनी वाणिज्य दूतावास ने बीबीसी को बताया है कि 11 यूक्रेनी महिलाएं हिरासत में ली गई हैं. वहीं रूसी मीडिया के अनुसार रूस के एक शख़्स को भी हिरासत में लिया गया था.

दुबई में सार्वजनिक नग्नता के मामले में छह महीने तक की जेल और 5,000 दिरहम ( 981 पाउंड) के जुर्माने का प्रावधान है.

इसे भी पढ़े   भारत-ऑस्ट्रेलिया: बल्लेबाजों का बेहद खराब प्रदर्शन, 132 सालों में पहली बार हुआ ऐसा

यूएई के ज़्यादातर क़ानून शरीया क़ानून पर आधारित हैं, और अतीत में लोगों को सार्वजनिक जगहों पर प्रेम का इज़हार करने और समलैंगिक संबंधों के सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए जेल की सज़ा मिल चुकी है.

लगभग एक दर्जन महिलाएं दुबई के मरीना इलाक़े में बालकनी पर न्यूड फ़ोटोशूट करा रही थीं.

यूक्रेनी वाणिज्य दूतावास का कहना है कि इन महिलाओं से मंगलवार को मुलाकात की जाएगी.

इससे पहले रूसी मीडिया में रिपोर्ट आई थी कि आठ रूसी महिलाओं को गिरफ्तार किया गया था लेकिन अब इस ख़बर से इनकार कर दिया गया है.

लेकिन रिया समाचार एजेंसी ने अधिकारियों के हवाले से कहा कि इस शूट का इंतज़ाम करने वाले एक रूसी नागरिक को भी गिरफ्तार किया गया है.

दुबई में पुलिस पहले ही चेतावनी दे चुकी है कि कोई भी अश्लील सामग्री या ऐसी कोई भी सामग्री प्रकाशित करे जो “सार्वजनिक नैतिकता को नुकसान पहुंचा सकती हैं” तो ऐसे शख़्स को क़ारावास की सज़ा और जुर्माना भरना होगा.

पुलिस ने अपने बयान में कहा, ”इस तरह के अस्वीकार्य व्यवहार अरब समाज के मूल्यों और नैतिकता को नहीं दर्शाते हैं ”

जो भी लोग यूएई में रहते हैं या सैलानी है उन सभी पर ये नियम लागू होता है. इसमें किसी पर्यटक को भी कोई भी तरह की छूट नहीं है.

इसे भी पढ़े   नेपाल: पीएम केपी शर्मा ओली बोले- महाभारत के धृतराष्ट्र की तरह हैं प्रचंड

अतीत में दुबई में छुट्टियों के दौरान पर्यटकों के हिरासत में लिए जाने के कुछ हाई-प्रोफाइल मामले भी सामने आ चुके हैं.

2017 में, एक ब्रिटिश महिला को एक व्यक्ति के साथ सहमति से सेक्स करने के कारण एक साल की जेल की सजा सुनाई गई थी.

ऐसा इसलिए क्योंकि उस महिला ने आदमी से शादी के बिना सेक्स किया था. दरअसल महिला उस शख्स से मिल रहे धमकी भरे संदेश की शिकायत लेकर अधिकारियों के पास गई थी और इस रिश्ते का पता चलते ही उस महिला को सज़ा दे दी गई.