देश में तेजी से फैल रहा है बर्ड फ्लू, जानिए किस राज्य में है क्या स्थिति – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

देश में तेजी से फैल रहा है बर्ड फ्लू, जानिए किस राज्य में है क्या स्थिति

Published

on

नई दिल्ली
देश की कई राज्यों में बर्ड फ्लू () का प्रकोप बढ़ गया है। केंद्र सरकार का कहना है कि उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू या ‘एवियन इंफ्लूएंजा’ के प्रकोप की पुष्टि होने के साथ ही इससे प्रभावित राज्यों की कुल संख्या बढ़ कर 7 हो गई है। देश में अब तक 1200 पक्षियों की मौत हो चुकी है। केंद्र ने कहा कि दिल्ली, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू की पुष्टि अभी नहीं हुई है। इन स्थानों से लिए गए नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। उत्तर प्रदेश के अलावा जिन अन्य छह राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है, उनमें केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात शामिल हैं। मत्स्यपालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘अब तक सात राज्यों में इस रोग की पुष्टि हुई है। विभाग ने प्रभावित राज्यों को परामर्श जारी किया है, ताकि रोग को और अधिक फैलने से रोका जा सके।’

कानपुर में बंद हुआ चिड़िया घर
उत्तर प्रदेश के कानपुर में बर्ड फ्लू ने दस्तक दी है। चिड़ियाघर में चार पक्षियों की मौत के बाद चिड़ियाघर बंद कर दिया गया है। जू के बाहर नोटिस चस्पा कर पर्यटकों और मॉर्निंग वॉकर्स के आने पर रोक लगा दी गई है। उधर जू के अंदर बीमार पक्षियों को अलग रखकर उनका खास ख्याल रखा जा रहा है।दो दिन पहले कानपुर चिड़ियाघर में चार पक्षियों की मौत हो गई थी। मृत पक्षियों में बर्ड फ्लू के लक्षण पाए गए थे। जू प्रशासन ने पक्षियों को पोस्टमॉटर्म के लिए भोपाल रिसर्च सेंटर भेजा था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में चारों पक्षियों की मौत बर्ड फ्लू से हुई है। जू प्रशासन के साथ ही साथ स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है।

इसे भी पढ़े   टीम इंडिया पर नस्लीय टिप्पणी, 'गुस्साए' सचिन बोले- क्रिकेट भेदभाव नहीं करता

दिल्ली में गाजीपुर मंडी, कई पार्क व संजय झील बंद
बर्ड फ्लू की दहशत के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में जीवित पक्षियों के इंपोर्ट पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही गाजीपुर मुर्गा मंडी अगले 10 दिन तक बंद रहेगी। राजधानी में बर्ड फ्लू रोकने के ऐहतियात के तौर पर दिल्ली में हौज खास पार्क, द्वारका सेक्टर 9 पार्क, हस्तसाल पार्क और संजय झील को बंद कर दिया गया है। पूर्वी दिल्ली की संजय झील में शनिवार को 10 बत्तक मरे हुए पाए गए। इससे एक दिन पहले मयूर विहार फेस-3 में 17 कौवे मृत मिले थे।

हरियाणा में 4.4 लाख पोल्ट्री पक्षियों की मौत
हरियाणा में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के एक दिन बाद पंचकूला के बरवाला क्षेत्र में पक्षियों को मारना शुरू हो गया है। बरवाला एशिया में दूसरा सबसे बड़ा पोल्ट्री उत्पादक है। पशुपालन विभाग ने कुल 1.6 लाख में से दो पोल्ट्री फार्म में 3,700 पक्षियों को मार डाला। इस क्षेत्र में अब तक 4.4 लाख से अधिक पोल्ट्री पक्षियों की मौत हो चुकी है। एक अन्य जिले करनाल में, पांच बगुले मृत पाए गए। उनके सैंपल को टेस्टिंग के लिए जालंधर भेजा गया है।

इसे भी पढ़े   धरमलाल कौशिक ने मुख्यमंत्री बघेल को लिखा पत्र, जेईई की परीक्षा हेतु बस्तर और सरगुजा संभाग के परीक्षार्थियों के लिए वाहन की व्यवस्था करने की अपील की

राजस्थान के 11 जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि
प्रदेश के 5 और अन्य जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इसके अलावा रणथंभौर नेशनल पार्क के नजदीक भी कौवों में वायरस की पुष्टि हुई है। आपको बता दें कि प्रदेश में 11 जिलों में वायरस मिल चुका है। बीते 24 घंटे में भी जो पॉजिटिव सैंपल सामने आए हैं , उनमें हनुमानगढ़, जैसलमेर, पाली , बांसवाड़ा और दौसा जिला शामिल है। चिंता इस बात भी है कि हरियाणा और एमपी में मुर्गियों में बर्ड फ्लू वायरस की पुष्टि हो चुकी है।

महाराष्ट्र के परभणी में 900 मुर्गियों की मौत
महाराष्ट्र के परभणी जिले के मुरुम्बा गांव स्थित पॉलिट्री फार्म में 900 मुर्गियों की मौत हो गई है। परभणी के जिलाधिकारी दीपक मुलगीकर ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि मौत की वास्तविक वजह जानने के लिए नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है। उन्होंने बताया, ”दो दिनों में मराठवाड़ा इलाके के मुरुम्बा गांव में 900 मुर्गियां मरी हैं। हमने मरी हुई मुर्गियों के नमूनों को जांच के लिए भेजा है।” उन्होंने बताया कि जिस पोल्ट्री फार्म में मुर्गियों की मौत हुई है उसे स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) चलाता है।

इसे भी पढ़े   ड्राइवर के साथ मारपीट करने वाले ट्रांसपोर्टर्स के खिलाफ अपराध दर्ज

केरल में राज्य आपदा घोषित
केरल में बड़ी संख्या में पक्षियों के एच-5 एन-8 वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद बर्ड फ्लू को राज्य आपदा घोषित कर दिया गया है। ये वायरस अलप्पुझा और कोट्टायम जिले में मिला है।

क्या होता है बर्ड फ्लू
एवियन इन्फ्लूएंजा या एवियन फ्लू को बर्ड फ्लू कहा जाता है बर्ड फ्लू पक्षियों से फैलने वाला रोग है। संक्रमित पक्षी के संपर्क में आने से यह रोग इंसानों को हो जाता है चाहे पक्षी मरा हो या जिंदा हो दोनो से ही रोग फैलने का खतरा रहता है। इस रोग में गले में खराश, खांसी, निमोनिया, बुखार, मांसपेशियों में दर्द, जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं। बर्ड फ्लू के लिए एच5एन1 वायरस (H5N1)जिम्मेदार होता है। संक्रमित पक्षी को खाने से भी यह रोग हो सकता है। यह एक खास तरह का श्वास रोग होता है यह रोग इतना खतरनाक होता है कि इससे संक्रमित व्यक्ति की जान भी जा सकती है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

BREAKING1 hour ago

छतीसगढ़ ब्रकिंग ;रायपुर के 240 निजी स्कूलों की मान्यता रद्द

रायपुर ;जिला शिक्षा नें अधिकारी  जिले के 240 निजी स्कूलों की मान्यता तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी है| इसके...

channel india2 hours ago

धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलटा

चिरमिरी – ग्राम मेंड्रा में उस समय अफरातफरी का माहौल बन गया जब धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलट गया।...

channel india2 hours ago

वेब सीरीज “तांडव” पर छतीसगढ़ में भी मंचा तांडव, भारतीय जनता युवा मोर्चा ने किया पुतला दहन

रायपुर। वेब सीरीज  पर जब से “तांडव” आई है तब से इस वेब सीरीज नें देश के हर कोनें में...

बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक
channel india3 hours ago

बेरोजगार किसान मोर्चा: महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक

रायपुर। छत्तीसगढ़ से शिव सेना के प्रदेश सचिव संजय नाग ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि शिवसेना प्रदेश...

channel india3 hours ago

औघड़ आश्रम स्थापना दिवस कार्यक्रम: जरूरतमंदों को बांटा गया कंबल वितरण

जशपुर। जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे एवं पुलिस अधीक्षक बालाजी राव पत्थलगांव विकासखंड के शेखरपुर में स्थित औघड़ आश्रम  एवं औघड़...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement