खबरे अब तक

देश-विदेश

देश में तबाही मचाने को तैयार कोरोना की नई लहर, आखिर कब तक कहर बरसायेगा ये कोरोना…जानिए



देश में कोरोना मामलों में भारी बढ़ोतरी का दौर जारी है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान 35 हजार 871 नए मामले और 172 मौतें दर्ज की गई हैं। इसके साथ ही उपचारधीन कोरोना रोगियों की संख्या में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बीते एक महीने के दौरान सक्रिय मरीजों की संख्या 85 फीसदी बढ़कर 2 लाख 52 हजार 364  तक पहुंच गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 17 फरवरी को देश में सक्रिय मामले 1 लाख 36 हजार 549 रह गए थे। उस समय सक्रिय मामले लगातार घट रहे थे। लेकिन पिछले एक महीनों में इसमें तेजी से बढ़ोतरी हुई है। इसकी वजह यह है कि नए संक्रमण ज्यादा हो रहे हैं तथा स्वस्थ होने वाले घट रहे हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान 17 हजार 958 सक्रिय मामले बढ़े हैं। जबकि इस दौरान स्वस्थ होने वालों की संख्या 17 हजार 741 रही।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 6 दिसंबर के बाद गुरुवार को सर्वाधिक नए संक्रमण दर्ज किए गए हैं। तब 36 हजार 11 नए मामले आए थे। इसी के साथ देश में कोरोना से अब तक संक्रमित होने वालों की संख्या 1 करोड़ 14 लाख 74 हजार 604 तक पहुंच गई है, जबकि मृतकों की संख्या 1 लाख 59 हजार 216 है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस समय में देश में 2.20 फीसदी सक्रिय मामले हैं।

इसे भी पढ़े   इमरान ने मुंबई हमले के मास्‍टर माइंड को यूं ही नहीं किया अरेस्‍ट, पाक‍ को सता रहा बड़ा डर

साढ़े 79 फीसदी नए मामले केवल पांच राज्यों में 
मंत्रालय ने कहा कि पांच राज्यों महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात एवं तमिलनाडु में 79.54 फीसदी नए केस आए हैं। अकेले महाराष्ट्र में 63.21 फीसदी यानी 16620 नए केस आए हैं। जबकि केरल में 1792 तथा पंजाब में 1492 मामले दर्ज किए गए हैं।

इसे भी पढ़े   भारत में कोरोनावायरस के कुल मरीज़ 5,194 हुए, अब तक 149 की मौत

400 लोग कोरोना के नए प्रकार से संक्रमित
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना के ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका तथा ब्राजील में पाए गए नए प्रकार के देश में अब तक 400 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मामले ब्रिटेन में पाए गए प्रकार के हैं। इन देशों से आने वाले लोगों के कोरोना पॉजिटिव निकलने पर वायरस की जीनोम सिक्वेंसिंग की जाती है जिसके बाद यह नतीजा निकाला जाता है। देश की 10 प्रयोगशालाओं में अब तक हजारों नमूनों की सिक्वेंसिंग की जा चुकी है।

इसे भी पढ़े   Rajasthan : घर में नौकर है तो जोधपुर की इस घटना से सबक लीजिए