जीआरपी ने 2 आरोपियों के पास से 33 किलो गांजा और एक देशी कट्टा भी बरामद

जीआरपी ने 2 आरोपियों के पास से 33 किलो गांजा और एक देशी कट्टा भी बरामद

छत्तीसगढ़ डेस्क 

रायपुर। पुरी-अजमेर एक्सप्रेस के एसी बोगी से हो रही गांजा तस्करी का खुलासा रायपुर जीआरपी ने किया है। ये गांजा गुजरात के अहमदाबाद जा रहा था। 2 गांजा तस्करों के पास से जीआरपी ने 33 किलो गांजा और एक देशी कट्टा भी बरामद किया है। जीआरपी प्रभारी एलएस राजपूत ने बताया कि जब्त गांजे की कीमत 3 लाख 30 हजार रुपए है। दोनों आरोपी कांटाभाजी (ओडिशा) से गांजा खरीदकर अहमदाबाद (गुजरात) में ब्रिक्री करने ले जा रहे थे।

पकडे गए आरोपियों में मोहम्मद समीर पिता समी उल्ला और अंसारी साबीर हुसैन पिता मोहम्मद अतीक निवासी चार टोला, गुजरात शामिल हैं. पुलिस अधीक्षक रेल रायपुर जेआर ठाकुर, उपपुलिस अधीक्षक एसएन अख्तर के निर्देशन में जीआरपी रायपुर पिछले कई दिनों से लगातार चेकिंग अभियान चला रही थी। चेकिंग के दौरान 24 जनवरी को मुखबीर से सूचना मिली कि ट्रेन नम्बर 20823 पुरी अजमेर एक्सप्रेस के बोगी नम्बर बी-2 में दो युवक गांजा लेकर ओडिशा से गुजरात जा रहे हैं।

सूचना के आधार पर जीआरपी ने ट्रेन पुरी-अजमेर नंबर 20823 रेल्वे स्टेशन रायपुर प्लेटफार्म नंबर 2 पर आने पर बोगी नम्बर बी 2 में दबिश दी। मुखबीर द्वारा बताए हुलिया के युवकों को उतारकर पूछताछ की गई तो एक ने अपना नाम मोहम्मद समीर गुजरात का रहने वाला बताया। उसके कब्जे से दो पिट्ठू बैग में 22 किलोग्राम गांजा, एक देशी पिस्टल और दो कारतुस जब्त किया गया। दूसरे आरोपी अंसारी साबीर हुसैन गुजरात के कब्जे से 01 पिट्ठू बैग से 11 किलोग्राम गांजा जब्त किया गया। दोनों आरोपी कांटाभाजी (ओडिशा) से गांजा खरीदकर अहमदाबाद (गुजरात) में ब्रिक्री करने ले जा रहे थे। आरोपियो के पास कांटाभाजी से अहमदाबाद का टिकट मिला है।