डाइट में करें ये मामूली बदलाव, दिल की बीमारियों से रहेंगे दूर...

डाइट में करें ये मामूली बदलाव, दिल की बीमारियों से रहेंगे दूर...

लाइफस्टाइल डेस्क

देश में दिल की बीमारियों के रोगियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. हार्ट डिसीस से कम उम्र में ही लोग अपनी जान गंवा रहे है. क्या आप जानते हैं कि जब आपके दिल के स्वास्थ्य की बात आती है तो आपके खानपान की आपके दिल को हेल्दी रखने में महत्वपूर्ण भूमिका होती है.वास्तव में दिल की बीमारियों का एक बड़ी वजह गलत खानपान और लाइफस्टाइल भी है.

यूरोपियन सोसाइटी ऑफ कार्डियोलॉजी की जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि अनहेल्दी फूड हार्ट अटैक और दिल की कई बीमारियों की वजह बनता है. इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप हेल्दी फूड खाएं और अपनी लाइस्टाइल को हेल्दी बनाएं. यहां हम आपको कुछ ऐसे फू्ड्स और डाइट पैटर्न की जानकारी दे रहे हैं जिन्हें आप अपनी डाइट में शामिल अपने दिल को मजबूत बना सकते हैं. 

मेडिटेरियन डाइट
क्रिटिकल रिव्यूज इन फूड साइंस एंड न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन और कई रिसर्च में यह सामने आया है कि मेडिटेरियन डाइट आपके दिल के लिए फायदेमंद हो सकती है. इस डाइट में बहुत सारी सब्जियां, फल, फलियां, बीज, मछली और नट्स शामिल होते हैं. इसमें आपकी कैलोरी मैनेज रहती है और आप हृदय रोग के जोखिम से भी बचे रहते हैं.

डैश 
डैश डाइट का मतबल डाइटरी अप्रोचेस टू स्टॉप हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर को रोकने के लिए आहार से जुड़े प्रयास है, जिसे विशेष रूप से आपके दिल के स्वास्थ्य को अच्छा रखने के मकसद से बनाया गया है. इसमें ऐसे खाद्य पदार्थ शामिल हैं जो कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटैशियम से भरपूर होते हैं. इस डाइट का मकसद आपकी दिनचर्या से सोडियम, सैचुरेटेड फैट्स और एक्स्ट्रा शुगर के सेवन को सीमित कर ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करना है.

फ्लेक्सिटेरियन डाइट
यह डाइट दो शब्दों फ्लेक्सिबल और वेजिटेरियन से मिलकर बनी है. इसमें प्रोटीन और प्रॉसेस्ड प्लांट बेस्ट फूड्स से भरपूर आहार शामिल है लेकिन इसमें मांस और एनिमल प्रॉडक्ट्स के सेवन को नियंत्रित करने पर जोर दिया जाता है. ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि फ्लेक्सिटेरियन आहार खाने से हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है.

लो-कार्ब डाइट 
आमतौर पर इस प्रकार के आहार में पास्ता, प्रॉसेस्ड फूड्स, शुगर वाले फूड्स और ब्रेड जैसे खाद्य पदार्थों समेत हाई कार्ब्स का सेवन सीमित करना शामिल है. अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि कम कैलोरी वाली डाइट लेने लोगों में अधिक वजन वाले व्यक्तियों की तुलना में हृदय रोग होने का कम खतरा होता है.

प्लांट बेस्ड डाइट
यह एक और प्रकार का डाइट पैटर्न है जिसे कई रिसर्च्स में आपके दिल के लिए फायदेमंद बताया है. इस प्रकार के आहार में सब्जियां, फल, बीन्स, साबुत अनाज और मांस के विकल्प शामिल होते हैं जो आपके कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर के स्तर को कम कर हृदय रोग के जोखिम को घटाते हैं.