छत्तीसगढ़ में धीमा हो सकता है कोरोना टीकाकरण…जानिए क्यो – Channelindia News
Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में धीमा हो सकता है कोरोना टीकाकरण…जानिए क्यो

Published

on

रायपुर. छत्तीसगढ़ में कोरोना टीकाकरण की रफ्तार एक बार फिर धीमी हो सकती है. वजह यह है कि अभी राज्य में केवल पांच दिनों का स्टॉक बचा है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक अभी कोविशिल्ड का महज चार से पांच दिनों का स्टॉक बचा है. प्रदेश के विभिन्न जिलों में केवल चार लाख टीके बचे हैं. वहीं कोवैक्सीन की भी केवल 31 हजार के करीब डोज ही स्टॉक में है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इतनी डोज से केवल एक हफ्ते तक टीकाकरण का कार्यक्रम जारी रखा जा सकता है.

बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में राज्यों में कोरोना टीकाकरण बढ़ाने के लिए नए सेंटर बनाने को कहा था. इधर, राज्य में अभी सेंटर बढ़ाने की तैयारी रोक दी गई है, क्योंकि टीके ही खत्म हो रहे हैं. राज्य टीकाकरण अधिकारी के मुताबिक अमर सिंह ठाकुर प्रदेश में अभी करीब 1400 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन लगाई जा रही है.

ठाकुर ने बताया कि इस स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार की ओर से केंद्र को पांच दिन पहले 12 लाख टीकों की डिमांड भेजी गई थी. इस साल जनवरी की शुरुआत से अब तक प्रदेश को करीब 16 लाख कोविशील्ड और 72 हजार से ज्यादा कोवैक्सीन मिल चुके हैं. इस हफ्ते से एक लाख टीके लगाने का नया टारगेट भी स्वास्थ्य विभाग ने तय किया है. इसलिए देखा जाए तो प्रदेश में अब दोनों तरह के टीकों के चार लाख 64 हजार  टीके के डोज केवल तीन से चार दिन ही चल पाएंगे. हालांकि राज्य टीकाकरण अधिकार डॉ. अमर सिंह ठाकुर का कहना है कि 25 मार्च तक पांच लाख 26 हजार टीके मिल जाएंगे. हालांकि 12 लाख की मांग के अनुपात में यह कम ही है.

60 साल से बड़ी उम्र के लोगों को 3 लाख टीके लगे

छत्तीसगढ़ में अभी तक करीब तीन लाख लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं, जिनकी उम्र 60 साल से अधिक है. राज्य में करीब तीन करोड़ लोगों को टीके लगने हैं, लेकिन अब तक कुल 3.5 फीसदी आबादी को ही वैक्सीन लगाई जा सकी है. टीकों की दोनों खुराक के लिए जो संख्या प्रदेश को चाहिए, वो 69.46 लाख के आसपास है. इसमें से अभी तक प्रदेश को 16.72 लाख टीके ही मिले हैं. जाहिर है कि 52.74 लाख टीके कम मिल रहे हैं. ऐसे में 12 लाख टीकों की सप्लाई जल्द नहीं होगी, तो वैक्सीनेशन रुक भी सकता है. विभागीय अधिकारियों ने बताया कि जिन जिलों में टीकों की रफ्तार बेहद धीमी है, वहां वैक्सीन भेजी जा रही है.

Advertisement

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING8 hours ago

पिता ने बेटे को उतारा मौत के घाट और अपनी पत्नी के साथ किया जानलेवा हमला…

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां पडरौना कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत देवकीनगर...

BREAKING9 hours ago

यहां के कलेक्टर ने ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर लगाया प्रतिबंध

धमतरी(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निकायों के उप निर्वाचन 2021 सम्पन्न कराने के लिए घोषित कार्यक्रम को...

BREAKING9 hours ago

कांग्रेस नेता ने खड़ी फसलो पर चलवाई JCB किसानों में दिखा आक्रोश…

जबलपुर(चैनल इंडिया)। प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में कांग्रेस नेता जितेन्द्र अवस्थी की दबंई सामने आई है। किसानों पर अवैध कब्जा...

BREAKING10 hours ago

CM योगी ने विपक्ष पर किया हमला, कहा-जिन्ना के अनुयायी नहीं समझेंगे गन्ने की मिठास…

गोंडा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को गोंडा जिले में 450 रुपये करोड़ की लागत से 65.61...

BREAKING11 hours ago

बड़ी कामयाबी: छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में देश में अव्वल

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ ने वायु, जल प्रदूषण, ठोस कचरे के प्रबंधन और वनों के संरक्षण और संवर्धन की दिशा...

Advertisement
Advertisement