ग्रेटर नोएडा, मथुरा, अयोध्या, काशी..बुलेट ट्रेन का 800 किमी का सर्वे हुआ शुरू – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

ग्रेटर नोएडा, मथुरा, अयोध्या, काशी..बुलेट ट्रेन का 800 किमी का सर्वे हुआ शुरू

Published

on

गाजियाबाद
नैशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन ने वाराणसी से दिल्ली के बीच प्रस्तावित हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के सर्वे का काम शुरू कर दिया है। मौसम साफ होने के बाद रविवार को विशेष हेलीकॉप्टर के जरिए एक्सपर्ट की टीम ने एरियल लीडार तकनीक से जमीन सर्वे का काम शुरू किया। 800 किलोमीटर का यह सफर इस ट्रेन से महज 3 घंटे में पूरा होगा। इस परियोजना में अयोध्या को भी जोड़ा गया है।

नैशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन की प्रवक्ता सुषमा गौड़ ने बताया कि पहले फेज में ग्रेटर नोएडा से आगरा के बीच करीब 120 किलोमीटर का हवाई सफर कर प्रस्तावित कॉरिडोर के सर्वे के लिए टीम ने आंकड़े कैप्चर किए। आगे भी सर्वे का काम जारी रहेगा।

इसे भी पढ़े   लॉक डाउन में लघु वनोपजों के संग्रहण, भंडारण और परिवहन को मिली सशर्त छूट!!

चार महीने में पूरा होगा सर्वे
वाराणसी-दिल्ली हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के लिए कॉर्पोरेशन अगले 3 से 4 महीनों तक दिल्ली से वाराणसी के बीच हवाई सर्वे कर आंकड़े इकट्ठा करेगी। इसके बाद प्रस्तावित कॉरिडोर के लिए डीपीआर तैयार किया जाएगा। उसके बाद जमीन अधिग्रहण का काम शुरू होगा।

खराब मौसम के कारण दिसंबर में टला था सर्वे
कॉरिडोर के सर्वे का काम 13 दिसंबर से शुरू होना था। लेकिन खराब मौसम के कारण नैशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन को इसे टालना पड़ा था। अब मौसम में सुधार के बाद एक बार सर्वे का काम शुरू हो गया है।

अक्टूबर 2020 में रेल मंत्रालय ने दी थी हरी झंडी
वाराणसी-दिल्ली के बीच हाई स्पीड ट्रेन को 29 अक्टूबर को रेल मंत्रालय ने हरी झंडी दी थी। ये हाई स्पीड ट्रेन देश की राजधानी से सांस्कृतिक राजधानी काशी सहित यूपी के प्रमुख पर्यटन स्थलों को जोड़ेगा।

इसे भी पढ़े   स्‍व‍िमिंग पूल में मलाइका अरोड़ा ने किया योग, तस्‍वीर देख फैन्‍स के उड़ गए होश

धार्मिक शहरों से जुडेगा कॉरिडोर
बुलेट ट्रेन से अयोध्या को भी जोड़ा जाएगा। ऐसे में इस कॉरिडोर से जुड़ने वाले शहर मथुरा, आगरा, इटावा, लखनऊ, अयोध्या, रायबरेली, प्रयागराज और वाराणसी होंगे।

क्या होता है लीडार सर्वे
इस तकनीक के माध्यम से आसमान से जमीन पर बनाए जाने वाले मार्गो का सर्वेक्षण किया जाता है जिसमे समय की बचत के साथ खर्च भी कम होता है। इसमें हेलीकॉप्टर में एक डिवाइस लगाकर डाटा इकट्ठा किया जाता है जिसमें यह जानकारी मिलती है कि रास्ता कैसा है, कहां पर नदी और नाले हैं और कहां घनी बस्तियां हैं। रूट कितना टेढ़ा-मेढ़ा है, कितना सीधा है, इन रूटों पर कितनी नदियां हैं, किस तरह की जमीन है, रूट पर कितनी बिल्डिंग हैं, कितने टॉवर हैं, इनकी लंबाई-चौड़ाई कैसी है, इसका भी डाटा मुहैया कराता है। सबसे बड़ी बात इस सर्वे को परंपरागत तरीके से किया जाए तो इसमे 10 से 12 सप्ताह लग सकते हैं, लेकिन अगर यही सर्वे एरियल लीडार तकनीकी से किया जाता है तो यही काम 1 सप्ताह में हो जाता है।

इसे भी पढ़े   नोरा फतेही ने जताई तैमूर के साथ शादी की इच्छा, करीना कपूर ने दिया ये रिऐक्शन
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

channel india8 hours ago

गरिमापूर्ण तरीके से मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस, कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए आयोजित होंगे कार्यक्रम

कवर्धा। गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2021 के मुख्य ध्वाजारोहण समारोह आयोजन कवर्धा के पीजी कॉलेज आचार्य पंथ गृंधमुनी नाम साहेब...

channel india8 hours ago

श्रीराम मंदिर निधि समर्पण अभियान में बढ़ चढ़कर सहयोग करें : चंद्रशेखर साहू

गरियाबंद। ग्राम पंचायत श्यामनगर में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण अभियान की शुरुआत की गई जिसमें पूरे ग्रामवासियों...

channel india8 hours ago

छतीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री महन्त जी महाराज का जिला धमतरी एवं कांकेर प्रवास

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री डॉक्टर महन्त रामसुन्दर दास जी महाराज पीठाधीश्वर श्री दूधाधारी मठ रायपुर...

channel india8 hours ago

कवर्धा शहर के झुग्गी बस्ती ट्रांसपोर्ट नगर में ओपन हॉउस कार्यक्रम आयोजित

कवर्धा। भारत सरकार मंत्रालय महिला एवं बाल विकास विभाग नई दिल्ली एंव चाइल्ड लाइन इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से आस्था...

channel india8 hours ago

शर्मनाक: माँ ने अपने ही नवजात को कुल्हाड़ी से कई टुकड़ों में काटा, फिर दौड़ी अस्पताल…

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने सबका दिल दहला दिया हैं। दरअसल, अशोक...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement