खबरे अब तक

(BCCIchannel indiaCHANNEL INDIA NEWScricketSpecial News

गावसकर बोले, सिडनी टेस्ट से वर्ल्ड क्रिकेट को मेसेज- हम कभी नहीं झुकेंगे



सिडनी
भारतीय क्रिकेट टीम ने (), चेतेश्वर पुजारा (), हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) और आर अश्विन (Ravichandran Ashwin) के दम पर सिडनी टेस्ट मैच को ड्रॉ करा लिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस टेस्ट को जीतने के लिए कई हथकंडे अपनाए लेकिन टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने मेजबान टीम को अपने प्रदर्शन से करारा जवाब दिया।

‘5वें नंबर पर पंत ने तो कमाल ही कर दिया’
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान () ने भारतीय टीम की तारीफ करते हुए कहा, ‘हमने वर्ल्ड क्रिकेट को यह मेसेज दे दिया है कि हम किसी भी परिस्थिति में नहीं झुकेंगे।’

पढ़ें,

बकौल गावसकर, ‘टीम इंडिया ने जिस तरह से सिडनी टेस्ट को ड्रॉ कराया उससे ये साफ पता चलता है कि वह किसी भी परिस्थिति से उबर सकती है। पांचवें नंबर पर ऋषभ पंत ने तो कमाल ही कर दिया। पंत ने शुरू में 34 गेंद पर 5 रन बनाए और उसके बाद जिस तरह से उन्होंने बल्लेबाजी की, वह काबिलेतारीफ है। उन्होंने मैच का पूरा पासा ही पलट दिया। पंत ने कदमों का इस्तेमाल कर जिस तरह से आगे बढ़कर छक्के लगाए, इससे साफ है कि उन्होंने क्रिकेटिंग सोच का इस्तेमाल किया।’

इसे भी पढ़े   महिला सिपाही से सिपाही ने किया बलात्कार, शादी का झांसा देकर लंबे समय से कर रहा था दुष्कर्म

गावसकर ने कहा कि हर क्रिकेटर को ये बात अच्छी तरह से पता है कि अगर इतिहास में जगह बनानी है तो उन्हें टेस्ट क्रिकेट में बेहतर प्रदर्शन करना होगा। पंत ने सिडनी टेस्ट की दूसरी पारी में 118 गेंदों पर 97 रन की पारी खेली जिसमें 12 चौके और 3 छक्के शामिल थे।

इसे भी पढ़े   02 से 15 अगस्त तक खरीदे गये गोबर की राशि का भुगतान 20 अगस्त को पशुपालकों को किया जाएगा 05 लाख 15 हजार रूपये का भुगतान

‘पुजारा ने दिया आलोचकों को जवाब’
पहली पारी में अर्धशतक जड़ने वाले चेतेश्वर पुजारा ने दूसरी पारी में 77 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 205 गेंदों पर 12 चौकें लगाए। पुजारा के बारे में गावसकर ने कहा कि इस बल्लेबाज ने अपने प्रदर्शन से आलोचकों को जवाब दिया है।

गावसकर ने कहा, ‘ चेतेश्वर पुजारा जैसा कमिटमेंट कम ही दिखता है। उन्होंने अपने प्रदर्शन से आलोचकों को जवाब देने की कोशिश की है। ऋषभ पंत ने जिस तरह से बैटिंग की इसका श्रेय पुजारा को जाता है। आज उनसे ऊपर बैटिंग कराना एक मास्टरस्ट्रोक था। लेफ्ट – राइट कॉम्बिनेशन ने कमाल का प्रदर्शन दिखाया। आगे चलकर नंबर पांच या छह पर पंत सिर्फ बैट्समैन के रूप में खेल सकते हैं। पिच पांचवें दिन खराब नहीं हुआ। जिस तरह पहली पारी में पुजारा आउट हुए, वैसी गेंद आज नहीं दिखी।’

इसे भी पढ़े   कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए कलेक्टर ने लागु किया आदेश!!

4 मैचों की सीरीज अभी 1-1 की बराबरी पर है। सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट मैच 15 जनवरी से ब्रिसबेन में खेला जाएगा।