खबरे अब तक

देश-विदेश

कोरोना से चारोवोर मचा है हाहाकार….लेकिन यहा परोसी गई अश्लीलता, बार बालाओं ने लगाए ठुमके..जाने फिर क्या हुआ



गोपालगंज. भले ही बिहार में कोरोना वायरस की महामारी (Coronavirus Epidemic) की दूसरी लहर ने रफ्तार पकड़ ली हो, लेकिन लोगों में अभी भी सुधार दिखाई नहीं दे रहा है. यही नहीं, कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर नीतीश सरकार (Nitish Government) और जिला प्रशासन ने सार्वजनिक स्थलों पर होली मिलन समारोह (Holi 2021) के आयोजनों पर रोक लगा रखी है. इसके साथ ही अन्य किसी भी आयोजन पर रोक लगाई गई है, जहां भीड़ जमा होने की संभावना है. हैरानी की बात है कि बिहार के गोपालगंज में इन नियमों को ताक पर रखकर जमकर होली मिलन समारोह के नाम पर अश्लीलता परोसने का मामला सामने आया है.

इसे भी पढ़े   ब्रह्मांड का 85% हिस्सा माना जाता रहा डार्क मैटर असल में है ही नहीं? नई स्टडी में दावा, तारों की अजीब हरकतों के पीछे ग्रैविटी का असर

यही नहीं, इस ऑरकेस्ट्रा पार्टी में न सिर्फ बार बालाओं के साथ कई स्थानीय जनप्रतिनिधि जमकर थिरके बल्कि जबरदस्‍त भीड़ भी दिखाई दी. हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आया है. यहां का है पूरा मामला वायरल वीडियो गोपालगंज के हथुआ अनुमंडल के भोरे थानाक्षेत्र के कोरेया गांव का है. इस वीडियो में भव्य ऑरकेस्ट्रा पार्टी का आयोजन किया गया. इस दौरान न सिर्फ बड़ा मच सजा बल्कि मंच के आसपास भारी संख्या में लोग भी मौजूद हैं. स्थानीय लोगों का दावा है कि इस होली मिलन समारोह के नाम पर आयोजित डर्टी डांस में स्थानीय विभूति नारायण राय, दबंग व बाहुबली मुकुल राय और जिला पार्षद सदस्य अंकु राय समेत कई लोग शामिल थे. हालांकि इस वीडियो में सिर्फ एक आदमी विभूति नारायन राय ही मंच पर डांस करते हुए दिख रहा है. इस वायरल वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह आयोजन बीते शुक्रवार यानी 26 मार्च का है. यह कार्यक्रम कोरेया गांव में आयोजित किया गया था. अब बड़ा सवाल है कि इतने बड़े पैमाने पर होली मिलन समारोह आयोजित हुआ, लेकिन जिला प्रशासन या हथुआ अनुमंडल प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी.

बहरहाल दावा यह भी किया जा रहा है कि गोपालगंज के कोरेया गांव में आयोजित इस सार्वजनिक अश्लील डांस में लाखों रुपये खर्च किये गए, लेकिन जिला प्रशासन को आयोजकों की जानकारी तक नहीं है. हालांकि इस मामले में जब एसपी आनंद कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसे किसी आयोजन की जानकारी नहीं है. अगर इस आयोजन का वीडियो मिलता है तो कोरोना पैनाडेमिक एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी. साथ ही कहा कि इस कार्यक्रम के जो भी आयोजक हैं, उनके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की जाएगी.

इसे भी पढ़े   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कार और टैंकर में हुई जबरदस्त भिड़ंत, टक्कर के बाद कार में लगी आग… एक बच्चा, महिला समेत 5 लोग जिंदा जले