खबरे अब तक

खबरे छत्तीसगढ़देश-विदेश

कोरोना संक्रमण बढ़ने पर प्रदेशों में सख्ती बढ़ी, जानें किस राज्य में क्या पाबंदी



देशभर में प्रतिदिन मिलने वाले नए कोरोना मामलों की संख्या बढ़ने के साथ ही कई और प्रदेशों और केंद्रशासित प्रदेशों ने रविवार को सख्ती और सतर्कता बढ़ा दी। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात समेत कई राज्यों के प्रमुख शहरों में पहले से लागू पाबंदी को और कड़ा किया गया है। कुछ शहरों में पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है, तो कई शहरों में केवल रात का कर्फ्यू लगाया गया है।

ओडिश और गुजरात समेत कई राज्यों में होली के अवसर पर सार्वजनिक समारोह आयोजित करने पर पाबंदी लगाई गई है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा है कि ‘मेरी होली-मेरे घर’ के नारे को त्यौहार पर चरितार्थ किया जाएगा।

अंडमान निकोबार में निगेटिव जांच रिपोर्ट जरूरी: केंद्रशासित प्रदेश अंडमान निकोबार के प्रशासन ने आने वाले पर्यटकों के लिए कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया है। उपनिदेशक (स्वास्थ्य) डॉ. अवजीत राय ने बताया कि मूल निवासियों को भी अपने द्वीप से अन्य द्वीप पर जाने के लिए निगेटिव जांच रिपोर्ट पेश करनी पड़ रही है। प्रदेश में अब तक 5,038 मामले सामने आ चुके हैं जिनमें से सात मरीज फिलहाल उपचाराधीन हैं, जबकि 4,969 मरीज संक्रमणमुक्त हो चुके हैं।

गुजरात में टोली बनाकर रंग खेलने पर पाबंदी: गुजरात सरकार कोरोना मामले बढ़ने के कारण होली के अवसर पर सार्वजनिक समारोह आयोजित करने की अनुमति नहीं देगी। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि लोगों को टोली बनाकर भीड़ में एक-दूसरे पर रंग डालने की अनुमति नहीं होगी। उपमुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि गुजरात के लोग नियमों का पालन करेंगे और होली नहीं खेलेंगे। हालांकि सीमित संख्या में लोगों के साथ होलिका दहन की परंपरा का निर्वहन किया जा सकेगा।

इसे भी पढ़े   आठ दिनों से गोताखोर के तालाब में डूबने की खबर पर मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने तालाब पहुचकर तत्काल ढूंढने के दिए आदेश

राजस्थान में बाहरी लोगों के लिए जांच रिपोर्ट अनिवार्य: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संक्रमण की रोकथाम के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। 25 मार्च से राजस्थान में बाहर से आने वाले सभी राज्यों के यात्रियों के लिए 72 घंटे के भीतर की आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य होगी। हवाई अड्डा, बस अड्डा और रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की जांच की जाएगी। जो यात्री नेगेटिव रिपोर्ट के बिना आएंगे उन्हें 15 दिन के लिए पृथकवास में रहना होगा। जिला कलेक्टरों को संस्थागत पृथकवास की व्यवस्था दोबारा शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।

राजस्थान के आठ शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यू: राज्य के सभी नगरीय निकायों में 22 मार्च से रात्रि 10 बजे के बाद बाजार बंद रहेंगे। अजमेर, भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा एवं कुशलगढ़ में रात्रि 11 से प्रातः 5 बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा। जहां भी पांच से अधिक संक्रमित मिलेंगे, उस इलाके या अपार्टमेंट को निषिद्ध क्षेत्र घोषित किया जाएगा। बीट कांस्टेबल की निगरानी में निषिद्ध क्षेत्र का सख्ती से अनुपालन कराया जाएगा। विवाह समारोह में 200 लोग और अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोगों को ही अनुमति होगी।

गोवा में नियम तोड़ने पर होगी कार्रवाई: गोवा सरकार कोरोना संबंधित नियमों का पालन नहीं करने वाले रेस्तरां, होटल या मनोरंजन क्षेत्र के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। राज्य सरकार के एक मंत्री ने कहा कि वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सभी के लिए मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि अगर लोग किसी रेस्तरां, होटल, संस्थान को नियमों का उल्लंघन करते हुए पाते हैं, तो वे इसके बारे में सरकार को ई-मेल के जरिये सूचना दे सकते हैं। इसके बाद सरकार द्वारा आवश्यक कार्रवाई शुरू की जाएगी।

इसे भी पढ़े   छत्तीसगढ़ बिग ब्रेकिंग: रेस्टोरेंट, होटल बार और क्लब 28 जून तक रहेंगे बंद, आदेश जारी!!

इंदौर, भोपाल और जबलपुर में लॉकडाउन: मध्य प्रदेश के तीन शहरों इंदौर, भोपाल और जबलपुर में रविवार को लॉकडाउन के कारण सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। मध्य प्रदेश के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा के आदेश के अनुसार इन तीन शहरों में यह लॉकडाउन शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। इस साल मध्य प्रदेश में यह पहला लॉकडाउन है। राज्य के अन्य शहरों ग्वालियर, उज्जैन रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल एवं खरगोन में बुधवार रात्रि 10 बजे से सुबह छह बजे तक दुकानें एवं अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद किए गए हैं। यह आगामी आदेश तक जारी रहेगा।

मध्य प्रदेश के हर शहर में 23 मार्च को सायरन बजेगा : मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को कहा कि 23 मार्च को पूर्वाह्न 11 बजे प्रदेश के सभी शहरों में सायरन बजाकर कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाने और दो गज की दूरी बनाने का संकल्प लिया जाएगा। सुबह 11 बजे जो जहां है, वहीं दो मिनट खड़े रहकर मास्क लगाने और एक-दूसरे से दूरी बनाए रखने का संकल्प लेगा। इसी दिन शाम 7 बजे भी दो मिनट के लिए सायरन बजेगा और लोग दोबारा सुनिश्चित करेंगे कि आसपास के लोगों ने मास्क लगाया है या नहीं।

इसे भी पढ़े   अश्लील फोटो-मैसेज वायरल करने वाले आरोपी को पुलिस ने धर दबोचा, जाने पूरा मामला

छत्तीसगढ़ में बच्चों के स्कूल-कॉलेज जाने पर पाबंदी: छत्तीसगढ़ सरकार ने बच्चों के आंगनवाड़ी केंद्रों, स्कूल और कॉलेज जाने पर पाबंदी लगा दी है। अकादमिक गतिविधियां ऑनलाइन करने को कहा गया है। हालांकि स्कूल, कॉलेज और आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद करने संबंधी आधिकारिक आदेश अभी जारी नहीं किए गए हैं। मुख्यमंत्री भूपेंद्र बघेल की अध्यक्षता वाली बैठक में महामारी को फैलने से रोकने के लिए कड़े कदम उठाने का फैसला लिया गया।

हैदराबाद में निगेटिव रिपोर्ट वाले पॉजिटिव मिले: हैदराबाद स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर विदेश से आए कई ऐसे यात्री जांच में संक्रमित पाए गए, जो विदेशों से कोविड-19 संक्रमण नहीं होने की पुष्टि करने वाली रिपोर्ट लेकर आए थे। सूत्रों ने बताया कि पश्चिम एशिया और ब्रिटेन से आने वाले लोगों के लिए जांच अनिवार्य है। हालांकि अमेरिका, सिंगापुर तथा मालदीव जैसे देशों से आने वाले यात्रियों के पास संक्रमण नहीं होने की पुष्टि करने वाली बीते 72 घंटे में आई रिपोर्ट होने पर घर जाने दिया जाता है।