कोरोना काल में ग्रामीण बच्चों की जिंदगी में रंग भर रहा यह टीचर, स्कूटी पर ही शुरू किया स्कूल…पढ़िए पूरी खबर – Channelindia News
Connect with us

देश-विदेश

कोरोना काल में ग्रामीण बच्चों की जिंदगी में रंग भर रहा यह टीचर, स्कूटी पर ही शुरू किया स्कूल…पढ़िए पूरी खबर

Published

on



कोरोना काल में भले ही सरकारी और निजी स्कूलों की ओर से ऑनलाइन पढ़ाई को बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है, लेकिन ग्रामीण बच्चों के लिए यह बहुत कारगर साबित नहीं हो रही है। खासतौर पर ऐसे परिवार के बच्चे ऑनलाइन शिक्षा से दूर हैं, जो लैपटॉप या स्मार्टफोन जैसे गैजेट्स से दूर हैं। ऐसे में मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक टीचर ने अपनी स्कूटी को ही चलते-फिरते स्कूल में तब्दील कर दिया है। एक सरकारी स्कूल के शिक्षक ने अपनी स्कूटी को ही मिनी-स्कूल और लाइब्रेरी में तब्दील कर दिया है। वह सागर जिले के बड़े हिस्से में स्कूटी से घूमते हैं और ग्रामीण बच्चों को पढ़ाती हैं। स्कूटी पर ही उन्होंने लाइब्रेरी भी तैयार कर रखी है ताकि जरूरतमंद बच्चों की किताब की जरूरत को भी पूरा किया जा सके।

इसे भी पढ़े   Bihar Election : RJD नेता तेजस्वी का चुनावी वादा, हमारी सरकार बनी तो देंगे 10 लाख बेरोजगार युवाओं को नौकरी

अकसर चंद्र श्रीवास्तव को किसी पेड़ की छाया में एक छोटे से माइक का इस्तेमाल करके पढ़ाते हुए देखा जा सकता है। एक कविता की क्लास में बच्चे कविता को दोहराते हुए दिखते हैं और बताते हैं कि इस दौरान उन्होंने क्या सीखा। एक बच्चे के पिता ने कहा कि वह टीचर के शुक्रगुजार हैं कि प्रतिदिन क्लास हो रही है। दरअसल स्कूटी के ही एक हिस्से को उन्होंने बोर्ड के तौर पर इस्तेमाल कर लिया है, जबकि दूसरे हिस्से में मिनी लाइब्रेरी बना दी है, जहां किताबें और नोटबुक रखी हुई हैं। वह बताते हैं कुछ किताबें उनकी ओर से बच्चों को मुफ्त में ही मुहैया कराई गई हैं।

इसके अलावा कुछ किताबें इस शर्त पर दी गई हैं कि वे उन्हें एक समय के बाद वापस कर देंगे। छठी क्लास के स्टूडेंट केशव ने कहा, ‘कोरोना संकट के चलते वह स्कूटर पर ही स्कूल का जरूरी सामान लेकर हमारे गांव तक आते हैं। वह हमें मैथ्स और अन्य जरूरी सब्जेक्ट्स की पढ़ाई कराते हैं।’ चंद्र श्रीवास्तव ने अपने इस प्रयोग को लेकर कहा कि ज्यादातर छात्र गरीब परिवारों से हैं और वे ऑनलाइन एजुकेशन से नहीं जुड़ सकते हैं। उनमें से हर किसी के लिए स्मार्टफोन ले पाना संभव नहीं है। इसके अलावा यदि किसी के पास स्मार्टफोन की उपलब्धता हो भी जाए तो कई इलाकों में कनेक्टिविटी का संकट रहता है। ऐसे में मैंने यह प्रयोग शुरू किया, जिससे कहीं भी बच्चों की आसानी से पढ़ाई हो सके।

इसे भी पढ़े   Generation X को प्यार होता है बार-बार, कई बार...पढे पूरी खबर

नेटवर्क कनेक्टिविटी के चलते शुरू किया मोबाइल स्कूल

चंद्र श्रीवास्तव ने कहा, ‘हमें कई जगहों पर नेटवर्क कनेक्टिविटी नहीं मिलती है। मैं वीडियोज को डाउनलोड कर लेता हूं और फिर बच्चों को उन्हें मोबाइल पर दिखाता हूं। इसके अलावा हमने स्कूटी पर ही स्कूल की सारी सामग्री की व्यवस्था करने का फैसला लिया। स्कूटी में एक तरफ ग्रीन बोर्ड  रहता है तो दूसरी तरफ लाइब्रेरी है, जिससे बच्चों को किताबों के तौर पर मदद मिल सके।’

इसे भी पढ़े   कमा रहे हैं पैसे तो खर्च करना जरूरी, जानिए क्या कहती है चाणक्य नीति
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india10 hours ago

पुलिस चौकी के सामने खड़ी एंबुलेंस अचानक लगी हिलने, पास जा कर देखा तो उड़ गए लोगों के होश…

एक तरफ कोरोना से हाहाकार मचा है। शहरों से लेकर गांवों तक देश का शायद ही कोई ऐसा कोना हो...

CHANNEL INDIA NEWS11 hours ago

प्रदेश के इस जिले में करना है प्रवेश तो देना होगा स्टेमिना टेस्ट, जानिए क्या करना पड़ेगा?

मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिला सीमा पर प्रवेश पर सख्ती दिखाने के लिए पुलिस अधीक्षक निवाड़ी आलोक कुमार सिंह ने...

channel india12 hours ago

10 साल की बच्ची को ब्लैक फंगस ने जकड़ा, इलाज जारी…

रायपुर(चैनल इंडिया)। कोरोना संक्रमण के बाद अब ब्लैक फंगस का खतरा बढ़ गया है. छत्तीसगढ़ में इसके चौकाने वाले मामले...

BREAKING12 hours ago

ब्रेकिंग न्यूज़: कोविड -19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए संपूर्ण कबीरधाम जिले में आगामी 31 मई सुबह 6 बजे तक कन्टेन्टमेंट क्षेत्र की समय सीमा बढ़ाई

कवर्धा(चैनल इंडिया)|  कलेक्टर एवं जिला  दंडाधिकारी रमेश कुमार शर्मा ने आज इस आदेश के आदेश एवं विस्तृत दिशा- निर्देश जारी...

BREAKING12 hours ago

बुजुर्ग ने किया कुत्ते का रेप, पुलिस ने दर्ज किया केस…

महाराष्ट्र के नालासोपारा जिले से चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक शख्स ने इंसानियत को शर्मशार कर कुत्ते...

Advertisement
Advertisement