खबरे अब तक

देश-विदेश

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आज ‘भारत बंद’, जानिए क्‍या खुला रहेगा और क्‍या बंद



नई दिल्ली: तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ कुछ किसान संगठनों ने आज शुक्रवार यानी 26 मार्च को भारत बुलाया है। इस दौरान रेल और सड़क परिवहन सेवाएं प्रभावित होने की संभावना है। इसके अलावा देश के कुछ हिस्सों में शुक्रवार को बाजार बंद रह सकते हैं और कुछ जगहों पर आवाजाही प्रभावित हो सकती है। किसान संगठनों ने चुनावी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में बंद से अलग रखा है। संयुक्त किसान मोर्चा के अनुसार, देशव्यापी बंद सुबह 6 बजे शुरू होगा और यह 26 मार्च को शाम 6 बजे तक लागू रहेगा। हालांकि पांच चुनावी राज्यों में यह बंद नहीं होगा। आपको बता दें कि दिल्ली की तीन सीमाओं-सिंघू, गाजीपुर और टीकरी पर किसान आंदोलन के चार महीने पूरे होने पर देशभर में यह राष्ट्रव्यापी बंद किया जा रहा है।

जानें भारत बंद से जुड़े LIVE UPDATES:

हमारे आंदोलन को लगभग चार महीने पूरे होने जा रहे हैं। भारत बंद में हमें लोगों, व्यापारियों, ट्रांसपोर्टर का सहयोग मिल रहा है। इससे सरकार को संदेश जाएगा। हम वार्ता के लिए 24 घंटे तैयार हैं: आज के भारत बंद पर राजवीर सिंह जादौन, भारतीय किसान यूनियन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष
ओडिशा: संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद के आह्वान पर भुवनेश्वर में ट्रेड यूनियन ने रेलवे ट्रैक ब्लॉक किया।

संयुक्‍त किसान मोर्चा के मुताबिक, किसान आंदोलन के 4 महीने (120 दिन) पूरे होने पर ‘भारत बंद’ किया जा रहा है। पिछले साल 26 नवंबर को शुरू हुआ था। बता दें कि, हजारों की संख्‍या में किसान दिल्‍ली की सीमाओं पर नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं कांग्रेस, लेफ्ट, समेत कई विपक्षी दलों ने किसानों के भारत बंद का समर्थन किया है। किसान संगठनों ने ऐलान किया है कि वे 28 मार्च को होलिका दहन पर नए कृषि कानूनों की प्रतियां जलाएंगे। आप भी जानिए आज भारत बंद के दौरान देश में क्‍या-क्‍या खुला रहेगा और क्‍या बंद रहेगा। साथ ही जानिए सड़क और रेल पर कितना असर पड़ेगा।

इसे भी पढ़े   Corona virus: फिलीपींस में लॉक डाउन, फंसे 1500 भारतीय स्टूडेंट्स लगा रहे मदद की गुहार

जानिए क्या-क्या रहेगा बंद?

किसानों के भारत बंद के दौरान देश भर की दुकानों, बाजार, व्यापारिक प्रतिष्ठानों आदि को बंद रखने का आह्वान किया गया है। सभी तरह की दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। इस दौरान दूध और डेयरी के उत्पादों की डिलीवरी को लेकर समस्या आ सकती है। ऐसे में अगर आप रोज दूध और डेयरी के उत्पाद खरीद कर लाते हैं तो आप आज शाम को ही इसकी व्यवस्था कर लें। किसान संगठनों ने कहा है कि लोगों से स्वेच्छा से दुकानें बंद रखने को कहा गया है। हालांकि, इसमें व्यापारी संगठन पूर्ण भागीदारी देंगे या नहीं इसको लेकर संशय बना हुआ है। व्यापारी इस भारत बंद में शामिल होंगे या नहीं, यह उन पर निर्भर है।

इसे भी पढ़े   हैवानियत इस कदर सवार:खेत से लौट रही मासूम से दारोगा के बेटे और दोस्त ने दिया दुष्कर्म को अंजाम

जानिए क्या रहेगा खुला

किसान नेताओं के अनुसार, किसी कंपनी या फैक्‍ट्री को नहीं बंद कराया जाएगा। पेट्रोल पंप, मेडिकल स्‍टोर, जनरल स्‍टोर जैसी जरूरत की जगहें खुली रहेंगी। भारत बंद के दौरान सड़कों को जाम नहीं किया जाएगा। इस वजह से यातायात पूरी तरह से सामान्य रहेगा। इसके अलावा भारत बंद के दौरान किसान रेल मार्ग को भी बाधित नहीं करेंगे। फैक्ट्रियों-कंपनियों को नहीं बंद करवाने का फैसला लिया गया है। पेट्रोल पंप, परचून की दुकानें, मेडिकल स्टोर, जनरल स्टोर और किताब की दुकानें भी इस दौरान खुली रहेंगी।

इसे भी पढ़े   शिवसेना के प्रदेश संगठन मंत्री राजेश ठावरे का कांकेर में हुआ आगमन, जनसमस्याओं को लेकर जल्द ही प्रदेश स्तर पर आंदोलन